हावड़ा जिला पश्चिम बंगाल

हावड़ा जिला पश्चिम बंगाल के जिलों में एक जिला है, और इसका मुख्यालय हावड़ा है, जिले में 2 तहसील है, 11 खंड या ब्लॉक है और 16 विधान सभा क्षेत्र है और 3 लोकसभा है।

हावड़ा जिला

हावड़ा जिले का क्षेत्रफल 1,467 किमी 2 (566 वर्ग मील) है और २०११ की जनगणना के अनुसार हावड़ा की जनसँख्या लगभग 4,850,029 है और जनसँख्या घनत्व 3300 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, हावड़ा की साक्षरता 83.85% है, महिला पुरुष अनुपात यहाँ पर 935 है, जिले की जनसँख्या विकासदर २००१ से २०११ के बीच 13.31% रही है।

हावड़ा जिला भारत में कहाँ पर है

हावड़ा जिला भारत के राज्यो में पूर्व में स्थित पश्चिम बंगाल राज्य में है, हावड़ा जिला पश्चिम बंगाल के दक्षिणी भाग की तरफ है और हावड़ा 22°59′ उत्तर 88°31′ पूर्व के बीच स्थित है और हावड़ा की समुद्रतल से ऊंचाई 12 मीटर है, हावड़ा पश्चिम बंगाल की राजधानी कलकत्ता से 16 किलोमीटर उत्तर पश्चिम की तरफ राष्ट्रीय राजमार्ग १२ पर है और भारत की राजधानी दिल्ली से 1485 किलोमीटर दक्षिण पूर्व की तरफ राष्ट्रिय राजमार्ग 19 पर है।

हावड़ा जिले के पडोसी जिले

हावड़ा जिले के उत्तर में हुगली जिला है, पूर्व में कोलकाता जिला है और दक्षिण में दक्षिण २४ परगना जिला है, दक्षिण पश्चिम में पूरबी मेदिनीपुर जिला है, पश्चिम में पश्चिम मेदिनीपुर जिला है।

Information about Howrah in Hindi

नाम हावड़ा
मुख्यालय हावड़ा
राज्य पश्चिम बंगाल
क्षेत्रफल 1,467 किमी 2 (566 वर्ग मील)
जनसंख्या (2011) 4,850,029
पुरुष महिला अनुपात 935
विकास 13.31%
साक्षरता दर 83.85%
जनसंख्या घनत्व 3,300 / किमी 2 (8,500 / वर्ग मील)
ऊंचाई 12 मीटर (39 फुट)
अक्षांश और देशांतर 22°59′ उत्तर 88°31′ पूर्व
एसटीडी कोड 91-033
पिन कोड 711xxx
तहसील 2
खंड 11
लोकसभा क्षेत्र 3
विधानसभा क्षेत्र 16
रेलवे स्टेशन हावड़ा रेलवे स्टेशन
एयर पोर्ट कोलकाता एयरपोर्ट असम
नदी (ओं) हुगली, दामोदर और आदि गंगा नदी
उच्च मार्ग NH 16, NH 19
आधिकारिक वेबसाइट http://howrah.gov.in/
आरटीओ कोड WB-12

हावड़ा जिले का नक्शा मानचित्र मैप

हावड़ा जिले में कितनी तहसील ब्लॉक और उपमंडल है

हावड़ा जिले में प्रशासनिक विभाजन, उप मंडल 2 है, तालुके जिनको तहसील कहते है, ये जिले में 2 और इनके नाम हावड़ा सदर और उलबेरिया है और जिले में 11 खंड है जिनको ब्लॉक भी कहते है इनके नाम बाली-जगचा, डोमजूर, पंचला, संकरेल और जगतबॉलवपुर, उलबेरिया -1, उलबेरिया-द्वितीय, अम्टा -1, अम्टा -2, उदयनारायणपुर, बगनन-1, बगनान -2, श्यामपुर -1 और श्यामपुर-द्वितीय है ।

हावड़ा जिले में विधान सभा और लोकसभा की सीटें

हावड़ा जिले में 16 विधानसभा क्षेत्र है जिनके नाम बाली, हावड़ा उत्तर, हावड़ा मध्य, शिबपुर, हावड़ा दक्षिण, संक्रिल, पंचला, उलुबेरिया पुरा, उलुबेरिया उत्तर, उलुबेरिया दक्षिण, श्यामपुर, बगनन, अम्टा, उदयनारायणपुर, जगवतबॉलपुर, डॉजुर और जिले में 3 संसदीय क्षेत्र है जिनके नाम हावड़ा, उलुबेरिया, सेरामपुर है।

हावड़ा जिले का इतिहास

हावड़ा का इतिहास भारत के इतिहास में लगभग ५०० साल पुराना है, इस स्थान का वर्णन एक विदेशी यात्री ने ने किया था की यहाँ पर जहाजों के द्वारा व्यापर किया जा सकता है, शायद वो १५६५ से १५७९ तक यहाँ पर यात्री के रूप में रहा होगा, इसके बाद जब ईस्ट इंडिया कंपनी ने पैर ज़माने शुरू किया १७१३ में औरंगजेब के पोते को यही हुगली नदी के आजु बाजू में १५-१६ गाओं देकर निर्वासित कर दिया था, फिर १७६० में मेरे कासिम ने भी इस भू भाग पर अधिपत्य किया कुछ समय के लिए, लेकिन शीध्र ही या अंग्रेजो के हाथो में आ गया, अंग्रेजो ने इस समस्त भूभाग को हुगली जिले के साथ जोड़ कर हुगली को १७८७ में जिला बना दिया, यह व्यवस्था १८४३ तक चलती ताहि, और १८४३ में हावड़ा को एक अलग जिला बना कर हुगली जिले से अलग कर दिया गया, और ये व्यवस्था आज तक चल रही है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *