बरपेटा जिला असम

बरपेटा जिला असम के जिलों में एक जिला है, इसका वर्तमान स्वरूप 1 जनवरी 2004 को ही इसमें से बस्का जिले को निकालने के बाद का है, इसका मुख्यालय बरपेटा है, जिले में 2 तहसील है, 26 खंड या ब्लॉक या मौजा है और 8 विधान सभा क्षेत्र है और 1 लोकसभा है।

बरपेटा जिला

बरपेटा जिले का क्षेत्रफल 3,245 किमी 2 (1,253 वर्ग मील) है और २०११ की जनगणना के अनुसार बरपेटा की जनसँख्या लगभग 1,693,190 है और जनसँख्या घनत्व 632 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, बरपेटा की साक्षरता 65.05 % है, महिला पुरुष अनुपात यहाँ पर 951 है, जिले की जनसँख्या विकासदर २००१ से २०११ के बीच 21.24% रही है।

बरपेटा जिला भारत में कहाँ पर है

बरपेटा जिला भारत के राज्यो में उत्तर पूर्व में स्थित असम राज्य में है, बरपेटा जिला असम के पश्चिमी भाग में है और बरपेटा 26°32′ उत्तर 91°00′ पूर्व के बीच स्थित है और बरपेटा की समुद्रतल से ऊंचाई 35 मीटर है और इसके पश्चिम में झारखण्ड और उड़ीसा के जिले है, बरपेटा असम की राजधानी दिसपुर जो की कामरूप जिले में है से 145 किलोमीटर उत्तर पश्चिम की तरफ राष्ट्रीय राजमार्ग 27 पर है और भारत की राजधानी दिल्ली से 1883 किलोमीटर दक्षिण पूर्व की तरफ राष्ट्रिय राजमार्ग 27 पर है।

बरपेटा जिले के पडोसी जिले

बरपेटा जिले के उत्तर में बक्सा जिला है, पूर्व में नलबारी जिला है, दक्षिण में कामरूप जिला है, दक्षिण पश्चिम में गोआलपाड़ा जिला है, पश्चिम में बोंगईगांव जिला है, उत्तर पश्चिम में चिरांग जिला है।

Information about Barpeta in Hindi

नाम बरपेटा
मुख्यालय बरपेटा
राज्य असम
क्षेत्रफल 3,037.64 किमी 2 (1,172.84 वर्ग मील)
जनसंख्या (2011) 1,136,548
पुरुष महिला अनुपात 956
विकास 16.15%
साक्षरता दर 79.95%
जनसंख्या घनत्व 371 / किमी 2 (970 / वर्ग मील)
ऊंचाई 81 मीटर (266 फीट)
अक्षांश और देशांतर 22°45′ उत्तर 86°98′ पूर्व
एसटीडी कोड 91-03221
पिन कोड 721507
तहसील 1
खंड 8
लोकसभा क्षेत्र 1
विधानसभा क्षेत्र 4
रेलवे स्टेशन बरपेटा रेलवे स्टेशन
एयर पोर्ट नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा कोलकाता
नदी (ओं) कांग्साबती, टरफेनि, सुबर्णरेखा और दुलुङ्ग नदी
उच्च मार्ग एनएच 16, एनएच 19
आधिकारिक वेबसाइट http://www.Barpeta.org
आरटीओ कोड WB-49/WB-50

बरपेटा जिले का नक्शा मानचित्र मैप

बरपेटा जिले में कितनी तहसील ब्लॉक और उपमंडल है

बरपेटा जिले में प्रशासनिक विभाजन, उप मंडल 2 है, तालुके जिनको तहसील कहते है, ये जिले में 2 और इनके नाम बारपेटा, बजली है और जिले में 26 खंड है जिनको यहाँ पर मौजा भी कहते है, वैसे कहीं कहीं इनको ब्लॉक भी कहा जाता है इनके नाम बारपेटा, बेटबारी, नगांव, चेंगा, गिलजारी, जानिआ, मंदिआ, बगरीबारी, गोबरधना, खरिजा बिजनी, दमका चकौ बोशी, हौली, तितपानी, रूपसी, बघबार, सरखेत्री, पाका, पब बजाली, सरिहा, उत्तर बजाली, मानिकपुर, भबानीपुर, हस्तिनापुर, बिजनी है।

बरपेटा जिले में विधान सभा और लोकसभा की सीटें

बरपेटा जिले में 8 विधानसभा क्षेत्र है जिनके नाम बारपेटा, बाग़बर, भवानीपुर, चेन्गा, जनिया, पाटचुकुची, सारूखेड़ी, सोरभोग और जिले में 1 संसदीय क्षेत्र है जिनके नाम बरपेटा है।

बरपेटा जिले का इतिहास

बरपेटा का इतिहास भारत के इतिहास में चौथी शताब्दी से प्रकाश में आया है, ३८० ईस्वी से ६५४ ईस्वी तक यहाँ पर वर्मन वंश ने राज किया, ६५५ से ९८५ ईस्वी तक सलासथम वंश ने, ९८५ से १२६० तक पाल वंश ने फिर १२६० से १५०९ तक कामतः वंश ने और फिर १५०९ के बाद से कोच राजाओ ने, इन्ही कोच राजाओ में एक राजा नरनारायण ने बरनगर बसाया जिसे सरभोग भी कहते है और वर्तमान जिला तत्कालीन राज्य कोच हजो का आंतरिक भाग है, और अहोम राजाओ ने इसके बाद राज किया जो की अंग्रेजो के आने तक बने रहे, महात्मा गाँधी १९३४ में और जवाहरलाल नेहरू १९३७ में बारपेटा आये थे, इस जिले का निर्माण १९८३ में कामरूप जिले से कुछ भाग निकालकर हुआ था, और वर्तमान स्वरूप इस जिले से एक १ जनवरी २००४ को बक्सा जिला निकलने के बाद का है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *