जांजगीर-चाम्पा छत्तीसगढ़

जांजगीर-चाम्पा जिला छत्तीसगढ़ के 27 जिलों में एक जिला है, जांजगीर-चाम्पा बिलासपुर मण्डल का जिला है और इसका मुख्यालय जांजगीर-चाम्पा में है। इस जिले में 5 उपमंडल नहीं है, 10 ब्लॉक या तहसील है, 915 गांव है जिनमे ६३१ ग्राम पंचायते भी है, 1 लोक सभा सीट है और 5 विधान सभा क्षेत्र है ।

जांजगीर-चाम्पा जिले का क्षेत्रफल 3,853 वर्ग किलोमीटर है, और २०११ की जनगणना के अनुसार जांजगीर-चाम्पा की जनसँख्या 1,620,632 और जनसँख्या घनत्व 421/km2 व्यक्ति [प्रति वर्ग किलोमीटर] है, जांजगीर-चाम्पा की साक्षरता 73.7 % है, महिला पुरुष अनुपात यहाँ पर 986 महिलाये प्रति १००० पुरुषो पर है, जिले की जनसँख्या विकासदर २००१ से २०११ के बीच 23.01 % रहा है।

जांजगीर-चाम्पा भारत में कहाँ पर है

जांजगीर-चाम्पा जिला भारत के राज्यो में दक्षिण पूर्व की तरफ की अंदर की तरफ स्थित छत्तीसगढ़ राज्य में है, जांजगीर-चाम्पा जिला छत्तीसगढ़ के केंद्रीय भाग का जिला है, जांजगीर-चाम्पा 21 ° 6 ‘ से 22 ° 4’ तक उत्तर अक्षांश और 82 ° 3 ‘ से 83 ° 2’ तक पूर्वी देशांतर में स्थित है, जांजगीर-चाम्पा की समुद्रतल से ऊंचाई 295 मीटर है, जांजगीर-चाम्पा रायपुर से 155 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम की तरफ है और देश की राजधानी दिल्ली से 1253 किलोमीटर दक्षिण पूर्व की तरफ ही है।

जांजगीर-चाम्पा के पडोसी जिले

जांजगीर-चाम्पा के उत्तर में कोरबा जिला है, पूर्व में रायगढ़ जिला है, दक्षिण में रायपुर जिला और पश्चिम में बिलासपुर जिला है ।

Information about Janjgir-Champa in Hindi

नाम जांजगीर-चाम्पा
विभाजन बिलासपुर
मुख्यालय जंजीर
राज्य छत्तीसगढ़
क्षेत्र 3,853 किमी 2 (1,488 वर्ग मील)
जनजीर-चंपा की जनसंख्या 1,620,632
पुरुष महिला अनुपात 9 86
विकास 22.94 प्रतिशत
साक्षरता दर 73.72 प्रतिशत
घनत्व 420 / किमी 2 (1,100 / वर्ग मील)
ऊंचाई 294 मीटर
अक्षांश और देशांतर 21.9706 डिग्री न, 82.4753 डिग्री ई
जंजिगिर-चंपा का एसटीडी कोड 7817
जंजीर-चंपा की पिन कोड 495671
जिला मजिस्ट्रेट (डीएम कलेक्टर) श। एस भारती दासन, आईएएस
पुलिस अधीक्षक (एसपी / एसएसपी) ओम प्रकाश पाल
मुख्य विकास अधिकारी ना
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सूर्य प्रकाश सक्सेना
संसद के सदस्य श्रीमती कमला देवी पाटली
विधायक श्री शिवशंकर पिक्रा, बीजेपी,
उपखंडों की संख्या 5
तहसील की संख्या 10
गांवों की संख्या 9 15
रेलवे स्टेशन जंजिगिर-चंपा रेलवे
बस स्टेशन बस स्टेशन जंजिगिर-चंपा
जंजीर-चंपा में एयर पोर्ट बिलासपुर के पास हवाई अड्डा
जंजिगिर-चंपा में होटल की संख्या 6
डिग्री कॉलेजों की संख्या 2
अंतर कॉलेजों की संख्या 12
मेडिकल कॉलेजों की संख्या 2
इंजीनियरिंग कॉलेजों की संख्या 66
जंजीर-चंपा में कंप्यूटर केंद्र 19
जंजीर-चंपा में मॉल 1
जंजिगिर-चंपा में अस्पताल 3
जंजीर-चंपा में विवाह हॉल 1
नदी (ओं) Hasdeo नदी
उच्च मार्ग राष्ट्रीय राजमार्ग 200
आधिकारिक वेबसाइट Http://janjgir-champa.nic.in/
बैंक भारतीय स्टेट बैंक, एक्सिस बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, बैंक ऑफ इंडिया, केनरा बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, आईसीआईसीआई बैंक, आईडीबीआई बैंक, इंडसइंड बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, सिंडिकेट बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (यूबीआई), इलाहाबाद बैंक
प्रसिद्ध नेता (ओं) जजविले देव
राजनीतिक दलों भाजपा, बसपा, सीपीआई, सीपीएम, कांग्रेस, एनसीपी
आरटीओ कोड सीजी -11
आधार कार्ड केंद्र 2
स्थानीय परिवहन साइकिल रिक्शा, बसों और टैक्सी
मीडिया समाचार पत्र, ग्रामीण / शहरी होने के रेडियो, ट्रांजिस्टर, मीडिया, टेलीविजन
यात्रा स्थलों चंद्रचुडेश्वर और नारायण मंदिर, पिथंपुर, अधर, दमूधर, मदनपुरगढ़ देवी मंदिर, विष्णु मंदिर, तुरिद्धम, लक्ष्मणेश्वर मंदिर, चंद्रहसिनी मंदिर, शिवरिनारायण लक्ष्मीनारायण मंदिर, देवर घाटा,
आयुक्त प्रशांत अग्रवाल

जांजगीर-चाम्पा का नक्शा मानचित्र मैप

गूगल मैप द्वारा निर्मित जांजगीर-चाम्पा का मानचित्र, इस नक़्शे में जांजगीर-चाम्पा के महत्वपूर्ण स्थानों को दिखाया जांजगीर-चाम्पा है

जांजगीर-चाम्पा जिले में कितनी तहसील है

जांजगीर-चाम्पा जिले में 10 ब्लॉक या तहसीलें है, जो की ५ उपमंडलों के अंतर्गत आते है, चंपा, दबरा, जंजिगिर, पमगढ़ और शक्ति और इन १० तहसीलों के नाम इस प्रकार से है अकलतारा, बलोदा, चंपा, दबरा, जयजीपुर, जंजिगिर, मल्लखोरोदा, नवागढ़, पमगढ़ और शक्ति।

जांजगीर-चाम्पा जिले में विधान सभा की सीटें

जांजगीर-चाम्पा जिले में 5 विधान सभा सीट है, इस 5 विधान सभा क्षेत्रो के नाम इस प्रकार से है, 1. जांजगीर-चंपा 2. सकती 3. चंद्रपुर 4. जैजैपुर 5. पामगढ़ (SC), इन 5 विधान सभा सीटों में १ भी विधान सभा सीट अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित नहीं है पर १ सीट अनुसूचित जाति के लिए आरक्षितं है।

जांजगीर-चाम्पा जिले में कितने गांव है

जांजिगिर-चम्पा जिले में 9 15 गांव है, इन 915 ग्रामो में ६३१ ग्रामो में ग्राम पंचायते है, जबकि शेष गांव जिनमे ग्राम पंचायत नहीं है उनको ६३१ में ही जोड़ दिया गया है

जांजगीर-चाम्पा का इतिहास

जांजगीर-चाम्पा का इतिहास कलचुरी राजवंश के इतिहास से जुड़ा हुआ है, जांजगीर-चाम्पा महाराजा जलावल्या देव की रियासत थी और बाद में इसे ही अपनी रियासत की राजधानी भी बना लिया था।

१९४७ में भारत के स्वतंत्र होने के बाद जांजगीर-चाम्पा बिलासपुर जिले के अंतर्गत आ गया था, उस समय सिर्फ जांजगीर नाम से जानत जाता था और १९९८ में इसे बिलासपुर से अलग करके एक न्य जिला बना दिया गया, जिसे राजनैतिक विरोधभास के चलते बाद में जांजगीर-चाम्पा कर दिया गया।

इस प्रकार जांजगीर-चाम्पा का वास्तविक इतिहास २५ मई २९९८ से शुरू होता है, इसे छत्तीसगढ़ के हृदय नाम से भी जाना जाता है क्युकी यह केंद्रीय भाग में स्थित है, जांजगीर-चाम्पा में स्थित भगवान् विष्णु का मंदिर इसके भव्य और उत्कृस्ट भूतकाल का घोतक है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *