गुमला झारखंड

गुमला जिला झारखंड के जिलों में एक जिला है, गुमला जिला, दक्षिण छोटा नागपुर मंडल के अंतर्गत आता है और इसका मुख्यालय गुमला में है, जिले में 3 उपमंडल है, 12 उप खंड और 3 विधान सभा क्षेत्र जो की लोहरदगा लोकसभा के अंतर्गत है, 94८ ग्राम है और 160 ग्राम पंचायते है।

गुमला जिला

गुमला जिले का क्षेत्रफल 5,327 वर्ग किलोमीटर है, और २०११ की जनगणना के अनुसार गुमला की जनसँख्या 1,025,656 और जनसँख्या घनत्व 193/km2 व्यक्ति [प्रति वर्ग किलोमीटर] है, गुमला की साक्षरता 66.92% है, महिला पुरुष अनुपात यहाँ पर 993 महिलाये प्रति १००० पुरुषो पर है, जिले की जनसँख्या विकासदर २००१ से २०११ के बीच 23.21% रहा है।

गुमला भारत में कहाँ पर है

गुमला जिला भारत के राज्यो में पूर्व की तरफ की अंदर की तरफ स्थित झारखंड राज्य में है, गुमला जिला झारखंड के दक्षिण पश्चिमी भाग का जिला है इसीलिए इसके पश्चिम और दक्षिण पश्चिम की तरफ छत्तीसगढ़ राज्य है और गुमला 23 ° उत्तर 84.5 ° पूर्व देशांतर के बीच स्थित है, गुमला की समुद्रतल से ऊंचाई 652 मीटर है, गुमला रांची से 94 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम की तरफ सिमडेगा-गुमला-रांची मार्ग पर स्थित है और देश की राजधानी दिल्ली से 1230 किलोमीटर दक्षिण पूर्व की तरफ ही और ये राष्ट्रिय राजमार्ग १९ पर है।

गुमला के पडोसी जिले

गुमला के उत्तर में लोहरदगा जिला है, पूर्व में रांची जिला है, दक्षिण पूर्व में खूंटी जिला है, दक्षिण सिमडेगा जिला है, दक्षिण पश्चिम से पश्चिम छत्तीसगढ़ के जिले है, जो की क्रमशः जशपुर जिला और सुरगुजा जिला है, उत्तर पश्चिम में लातेहर जिला है ।

Information about Gumla in Hindi

नाम गुमला
मुख्यालय गुमला
प्रशासनिक प्रभाग दक्षिण छोटा नागपुर मंडल
राज्य झारखंड
क्षेत्रफल 5,327 किमी 2 (2,057 वर्ग मील)
जनसंख्या (2011) 1,025,656
पुरुष महिला अनुपात 993
विकास 23.21%
साक्षरता दर 66.92%
जनसंख्या घनत्व 193 / किमी 2 (500 / वर्ग मील)
ऊंचाई 652 मीटर (2139 फीट)
अक्षांश और देशांतर 23.00 ° उत्तर 84.50 ° पूर्व
एसटीडी कोड 06524′
पिन कोड 835207
संसद के सदस्य 1
विधायक 3
उप मंडल की संख्या 3
खंडों की संख्या 12
गांवों की संख्या 948
रेलवे स्टेशन बानो रेलवे स्टेशन(56 KM)
बस स्टेशन हाँ
एयर पोर्ट रांची हवाई अड्डा
डिग्री कॉलेजों की संख्या 2
अंतर कॉलेजों की संख्या 82
प्राथमिक विद्यालय (पूर्व-प्राथमिक को शामिल करना) 1064
मध्य विद्यालय 620
अस्पताल 2
नदी (ओं) दक्षिण कोयल, उत्तरी कोयल और शंख
उच्च मार्ग NH-19
आधिकारिक वेबसाइट http://www.gumla.nic.in/
बैंक 5
प्रसिद्ध नेता (ओं) NA
आरटीओ कोड JH 07
स्थानीय परिवहन बस, टैक्सी आदि

गुमला का नक्शा मानचित्र मैप

गूगल मैप द्वारा निर्मित गुमला का मानचित्र, इस नक़्शे में गुमला के महत्वपूर्ण स्थानों को दिखाया गुमला है

गुमला जिले में कितनी तहसील है

गुमला जिले में प्रशासनिक विभाजन तहसील के बजाये 12 ब्लॉक में किया गया है, इसका मुख्य अधिकारी भी ब्लॉक विकास अधिकारी होता है, इन ब्लॉक का नाम बासीया, बर्नो, बिशनपुर, चेनपुर, दमरी, घाघरा, गुमला, कामदारा, पालकोट, परमवीर अल्बर्ट एकका, रदीह, सिसाई है।

गुमला जिले में विधान सभा और लोकसभा की सीटें

गुमला जिले में 3 विधान सभा क्षेत्र है, जो लोहरदगा लोकसभा क्षेत्र में आती है।

गुमला जिले में कितने गांव है

गुमला जिले में 160 पंचायतों के अंदर आने वाले 948 गांव, इन 1189 गांवों खंड होती है, जो की जिले में 12 है।

गुमला का इतिहास

गुमला का इतिहास हम दो भागो में बाँट सकते है एक तो इसके नाम का इतिहास और दूसरे इस क्षेत्र का इतिहास, पहले गुमला नाम के इतिहास पर प्रकाश डालते है।

गुमला एक ऐसा क्षेत्र था जहाँ पर प्रति वर्ष गाय का मेला लगता था, यानि की ये स्थान गऊ मेला के लिए प्रिसद्ध था, कालांतर में इस स्थान की प्रसिद्दि गऊ मेला नाम से हुयी, इसी को ग्रामीणों ने अपभ्रंश कर दिया और ये गुमला बन गया।

गुमला का कुछ कुछ इतिहास अंग्रेजो के समय से प्रकाश में आया, उस समय ये लोहरदगा जिले के अंतर्गत आता था, 1843 में ये बिशुनपुर राज्य का हिस्सा बन गया और इसका नामकरण रांची कर दिया गया, रांची को एक जिले के रूप में १८९९ में मिली और १९०२ गुमला एक उपमंडल बना दिया गया रांची जिले में, जब जगमोहन मिश्रा बिहार के मुख्य मंत्री बने तो उन्होंने गुमला को जिला बना दिया।

रामायण के अनुसार भगवान् हनुमान का जन्मस्थान गुमला में ही है, और यही पर ऋश्यमूक पर्वत भी स्थित है जहाँ पर हनुमान जी सुग्रीव के साथ रहते थी, वर्तमान में गुमला जिला भारत के नक्सल प्रभावित जिलों में है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *