फिरोजाबाद उत्तर प्रदेश

फ़िरोज़ाबाद जिला उत्तर प्रदेश के आगरा मंडल के अंतर्गत आता है, यहाँ का लोक सभा क्षेत्र और मुख्यालय फ़िरोज़ाबाद ही है, फ़िरोज़ाबाद का पहले नाम चंदवार नगर था जिसे १५६६ में अकबर के एक मनसबदार फिरोज शाह ने बदल कर फ़िरोज़ाबाद कर दिया।

फ़िरोज़ाबाद जिले का क्षेत्रफल २३६२ वर्ग किलोमीटर है और २०११ की जनगणना के अनुसार जनसँख्या २४९६७६१ और जनसँख्या घनत्व १०४४ व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, साक्षरता ७४.६% और ८६७ महिलाये प्रति १००० पुरुषो पर है तथा २००१ से २०११ के बीच जनसँख्या विकास दर २१.६२% रही है

फ़िरोज़ाबाद भारत में कहाँ पर है

फ़िरोज़ाबाद उत्तर प्रदेश के पश्चिमी भाग में है, इसके अक्षांस और देशान्तर २७ डिग्री १५ मिनट उत्तर से ७८ डिग्री ४२ मिनट पूर्व तक है, समुद्र तल से ऊंचाई १६४ मीटर है, फ़िरोज़ाबाद जिले के उत्तर में एटा पूर्व में मैनपुरी, दक्षिण पश्चिम में मैनपुरी और दक्षिण पूर्व में इटावा जिला है।

Information about Firozabad in Hindi

नाम फिरोजाबाद
राज्य उत्तर प्रदेश
क्षेत्र 2362 वर्ग किमी।
फिरोजाबाद की जनसंख्या 2,045,737
अक्षांश और देशांतर 27.15 ° N 78.42 ° E और
फिरोजाबाद के एसटीडी कोड 5612
फिरोजाबाद का पिन कोड 283,203
जिलाधिकारी (डीएम। कलेक्टर) विजय किरण आनंद आईएएस
पुलिस अधीक्षक (एसपी / एसएसपी) श्री बृज भूषण। / पीयूष SRIVASTAVA
मुख्य विकास अधिकारी श्री सुजीत कुमार
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ प्रताप सिंह
संसद के सदस्य ब्रज राज सिंह, शिव चरण लाल, राम जी लाल सुमन
विधायक श्री। मनीष Asiza
उप विभाजनों की संख्या शून्य
तहसीलों की संख्या फिरोजाबाद, Jasrana, शिकोहाबाद, टुंडला
गांवों की संख्या 815
रेलवे स्टेशन हाँ
बस स्टेशन हाँ
फिरोजाबाद में एयर पोर्ट नहीं
फिरोजाबाद में होटलों की संख्या होटल राजन, फिरोजाबाद, होटल MONARK, फिरोजाबाद, होटल गर्ग, फिरोजाबाद, रॉयल रेजीडेंसी, फिरोजाबाद, श्री वर्धमान पैलेस, फिरोजाबाद, होटल श्री वर्धमान पैलेस, फिरोजाबाद, होटल प्रभात, फिरोजाबाद, होटल चंद्रमा, फिरोजाबाद
डिग्री कॉलेजों की संख्या SRKPGCOLLEGE, फिरोजाबाद, MGCOLLEGE, फिरोजाबाद, CLJAIN कॉलेज, फिरोजाबाद, DAU दयाल पी.जी. कॉलेज ऑफ, फिरोजाबाद, लोक राष्ट्रीय महा VIDHALAYA, JASRANA, BDMMUNI.KPGCOLLEGE, शिकोहाबाद, AKCOLLEGE, शिकोहाबाद, पालीवाल डिग्री कॉलेज, शिकोहाबाद, नारायण डिग्री कॉलेज, शिकोहाबाद, ठाकुर Biri सिंह डिग्री कालेज, टुंडला
इंटर कॉलेजों की संख्या श्री गोपी नाथ इंटर कालेज, फिरोजाबाद, कस्तूरबा इंटर कॉलेज, फिरोजाबाद, श्री PDJAIN इंटर कॉलेज, फिरोजाबाद, SRKINTER कॉलेज, फिरोजाबाद, तिलक इंटर कालेज, फिरोजाबाद, रेवती देवी बालिका इंटर कॉलेज, फिरोजाबाद, DAU दयाल लड़कियों इंटर कॉलेज, फिरोजाबाद, कमला नेहरू चन्द्र कुमारी जैन इंटर कॉलेज, फिरोजाबाद, किसान इंटर कॉलेज, elai, Araya कन्या HIGH.SEC.SCHOOL, फिरोजाबाद, श्रीमती SUGRA बेगम कन्या इंटर कॉलेज, फिरोजाबाद, रामचंद्र KUNDANLAL बालिका HIGH.SEC.SCHOOL, कोटला, नारायण इंटर कॉलेज, शिकोहाबाद, AKINTER कॉलेज, शिकोहाबाद,
मेडिकल कॉलेजों की संख्या एफ एच मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल
इंजीनियरिंग कॉलेजों की संख्या प्रबंधन और प्रौद्योगिकी के आगरा कॉलेज (ACMT), इंजीनियरिंग और प्रबंधन, प्रौद्योगिकी और प्रबंधन के डॉ Zh संस्थान के अमरदीप कॉलेज
कम्प्यूटर केन्द्रों फिरोजाबाद में Esoft आईटी समाधान, पारस Photostate और कंप्यूटर, जिंदा इन्फोटेक, कैरियर कम्प्यूटर Trainining संस्थान, बजरंग इन्फोटेक, एच-टेक कंप्यूटर सेंटर, कंप्यूटर समाधान के बालाजी इंस्टीट्यूट, इन्फोटेक कंप्यूटर समाधान, नजीर अब्बास कंप्यूटर अकादमी, बी एफ आई टी, जेड कम्प्यूटर शिक्षा, एप्टेक कम्प्यूटर शिक्षा महिंद्रा कम्प्यूटर शिक्षा, अच्छा भविष्य कम्प्यूटर शिक्षा, माइक्रो टेक कम्प्यूटर शिक्षा, साई कम्प्यूटर केन्द्र, उमा इलेक्ट्रॉनिक संस्थान, बोबी ग्राफिक्स, डाटाप्रो कम्प्यूटर शिक्षा, एक्सेल नेट कंप्यूटर सेंटर, अतुल कम्प्यूटर Solustion
फिरोजाबाद में मॉल अशोक शॉपिंग मॉल, आर सी एम शॉपिंग प्वाइंट, इमरान शॉपिंग सेंटर
फिरोजाबाद में अस्पतालों ओम अस्पताल, डॉ एम सी अग्रवाल अस्पताल, डॉ प्रमोद गुप्ता अस्पताल, Aurvedic अस्पताल, वरदान मदर एंड चाइल्ड केयर सेंटर, बंसल नर्सिंग एवं प्रसूति गृह, जीवन ज्योति अस्पताल, चांदी लाइन अस्पताल, हिमांशु अस्पताल, अमरनाथ अस्पताल यादव अस्पताल, अंजू अस्पताल, श्री राम Sanehi मेमोरियल अस्पताल, भारत नेत्र अस्पताल, जेजे अस्पताल, अनुसूचित जनजाति Damnics अस्पताल
फिरोजाबाद में विवाह हॉल Nehas रेस्टोरेंट, स्टार स्थान विवाह घर, किरण विवाह घर, पवित्र विवाह घर और दया एस, अचल पैलेस, लकी टेंट हाउस और विवाह घर, आर कश्मीर विवाह घर, परी महल, रघुवर पैलेस, शुभम पैलेस, इंदर वाटिका विवाह होम
नदी (s) यमुना
उच्च मार्ग (s) राष्ट्रीय हाइवे
ऊंचाई 164 मीटर (538 फीट)।
घनत्व 866
आधिकारिक वेबसाइट http://firozabad.nic.in/
साक्षरता दर 66.53%
बैंकों इंडियन ओवरसीज बैंक, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, पंजाब नेशनल बैंक, भारतीय स्टेट बैंक, स्टेट बैंक ऑफ पटियाला, सिंडिकेट बैंक, यूको बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया, यस बैंक
प्रसिद्ध नेता (s) अभय चौटाला, अखिलेश यादव, आलोक तिवारी
politcal पार्टियों भाजपा, सपा, बसपा, कांग्रेस
आरटीओ संहिता यूपी 83
aadar कार्ड केंद्र 23
मेजर निर्यात मद कांच हार्ड वेयर, कांच artware, गिलास घरेलू बर्तन, गिलास ऑटोमोबाइल के बर्तन, झूमर, कांच सड़क और घरेलू प्रकाश
स्थानीय परिवहन गाड़ियों, बस, कार
मीडिया समाचार पत्र, ग्रामीण / शहरी रेडियो, ट्रांजिस्टर, मीडिया, टीवी के बाद
विकास 21.69%
यात्रा स्थलों Chadamilal जैन मंदिर, श्री Shuparshnath जैन मंदिर, Gher Khokal, Chandprabhu जैन मंदिर, जामा मस्जिद, Marsalganj जैन मंदिर, मस्जिद कलां आदि
आयुक्त राजेश मिश्रा
सामाजिक कार्यकर्ता शून्य
सरकार ने कॉलेजों / विश्वविद्यालयों श्री पी.डी. जैन इंटर कालेज, S.R.K. कम्प्यूटर विज्ञान एवं शिक्षा के कॉलेज

फिरोजाबाद का नक्शा मानचित्र मैप



गूगल मैप द्वारा निर्मित फिरोजाबाद का मानचित्र, इस नक़्शे में फिरोजाबाद के महत्वपूर्ण स्थानों को दिखाया गया है

फिरोजाबाद जिले में कितने गांव है

comming soon

फिरोजाबाद जिले में कितनी तहसील है

comming soon

फिरोज़ाबाद का इतिहास

फ़िरोज़ाबाद की स्थापना सुल्तान फ़िरोज़शाह तुग़लक ने 1351-1388 ई.की थी और अपनी राजधानी को दिल्ली से दस मील की दूरी पर बसाया था। यही नाम सुल्तान ने 1353-1354 ई. में बंगाल की चढ़ाई के दौरान वहाँ के ‘पहुँचा नगर’ को भी दिया था। सुल्तान फ़िरोज़ कट्टर मुसलमान था और उसने देश का प्रशासन इस्लाम के सिद्धान्तों के अनुरूप चलाने का प्रयास किया। उनके धार्मिक उत्सवों, सार्वजनिक सभाओं और पूजा पाठ पर प्रतिबंध लगाया गया। यहाँ क़े ज़मींदार मनिहार और पठान ही थे ब्राह्मणों पर भी जजिया कर थोपा गया, जो कि अभी तक इससे मुक्त थे। उसने अनेक बाग़-बग़ीचों को लगाया और वहाँ पर तमाम मस्ज़िदों का निर्माण कराया।

काँच उद्योग का प्रारम्भ-अलीगढ इंस्टिट्यूट गजट सन 1880 के पृष्ठ 1083 पर उर्दू के कवि मौलाना अल्ताफ हुसैन हाली ने लिखा है कि फ़िरोज़ाबाद में खजूर के पटटे की पंखिया एशी वनती है कि हिंदुस्तान में शायद ही कही वनती हो। सादी पंखिया जिसमे किसी कदर रेशम का काम होता है एक रूपया कीमत की हमने भी यहाँ देखी। कि 1880 तक यहाँ काँच उद्योग का प्रारम्भ नहीं हुआ था


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *