फतेहपुर उत्तर प्रदेश

फ़तेहपुर जिले उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद मण्डल के अंतर्गत आता है, फ़तेहपुर जिले का मुख्यालय फ़तेहपुर शहर ही है, इस जिले में १ लोक सभा और १ विधान सभा की सीट है, यहाँ से राष्ट्रिय राजमार्ग २ निकल कर गया है।

फ़तेहपुर जिले का क्षेत्रफल ४१५२ वर्ग किलोमीटर है, और २०११ के अनुसार जनसँख्या २६७५३८४ और जनसँख्या घनत्व ६४० व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, साक्षरता ५८.६% और ९१८ महिलाये प्रति १००० पुरुषो पर है।

फ़तेहपुर भारत में कहाँ पर है

फ़तेहपुर जिला उत्तर प्रदेश के दक्षिणी भाग में है इसके अक्षांस और देशान्तर २५ डिग्री ९३ मिनट उत्तर से ८० डिग्री ८ मिनट पूर्व तक है, समुद्र से ऊंचाई ११० मीटर है, इस जिले के आसपास अन्य जिले उत्तर में राय बरेली, पूर्व में कौशाम्बी, पश्चिम में कानपूर नगर और दक्षिण में बाँदा जिला है।

Information about Fatehpur in Hindi

नाम फतेहपुर
राज्य उत्तर प्रदेश
क्षेत्र 4,152 km2 (1,603 वर्ग मील)
फतेहपुर की जनसंख्या 2,675,384
अक्षांश और देशांतर 26 16 ‘एन और
फतेहपुर के एसटीडी कोड 5180
फतेहपुर का पिन कोड 212,601
जिलाधिकारी (डीएम। कलेक्टर) राकेश कुमार
पुलिस अधीक्षक (एसपी / एसएसपी) श्री रामेंद्र विक्रम। सिंह
मुख्य विकास अधिकारी श्री सी Ptripathi।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ ए गुप्ता
संसद के सदस्य अंसार Harvani, गौरी शंकर कक्कड़
विधायक सैयद कासिम हसन
उप विभाजनों की संख्या NA
तहसीलों की संख्या Bindki, फतेहपुर, खागा
गांवों की संख्या 1516
रेलवे स्टेशन हाँ
बस स्टेशन हाँ
फतेहपुर में एयर पोर्ट फतेहपुर के केंद्र से 74 किलोमीटर दूर
फतेहपुर में होटलों की संख्या आधा मूल्य Hotelsin फतेहपुर, चिंकारा डेजर्ट शिविर
डिग्री कॉलेजों की संख्या महात्मा गांधी डिग्री कालेज, Yugraj सिंह लॉ कॉलेज, Yugraj सिंह प्रबंधन कॉलेज, मुस्लिम इंटर कालेज, ठाकुर Yugraj सिंह डिग्री कालेज, सदाशिव इंटर कालेज, एएसआईसी एंग्लो संस्कृत इंटर कॉलेज आदि
इंटर कॉलेजों की संख्या Rajkeeya महिला महाविद्यालय, Bindki, महात्मा गांधी कॉलेज, फतेहपुर, अमर Shaheeb कंचन सिंह महाविद्यालय, ठाकुर Yugraj सिंह महाविद्यालय, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी Swargiya, परशुराम उमराव, रानी चंद्र प्रभा डिग्री कॉलेज, S.A.S.S. आदर्श इंटर कॉलेज, सुख देव इंटर कालेज, श्री गणेश शंकर Videyarthi इंटर कॉलेज Hathgaon, लड़कियों इंटर महाविद्यालय सिंह आशा
मेडिकल कॉलेजों की संख्या फतेहपुर, उत्तर में मेडिकल कॉलेजों की अतिरिक्त जानकारी
इंजीनियरिंग कॉलेजों की संख्या गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक, Umrav प्रौद्योगिकी संस्थान
कम्प्यूटर केन्द्रों फतेहपुर में एनआईआईटी फतेहपुर कैरियर, एप्टेक कम्प्यूटर शिक्षा, स्वर्ग शिक्षा केंद्र, कंप्यूटर सेंटर लाइकोस, Najami प्रकार कम्प्यूटर एवं Aaudyog। ज्योति कंप्यूटर, कॉमन सर्विस सेंटर, AISECT, डेटा विशेषज्ञ, आदर्श कम्प्यूटर इंस्टिट्यूट, एक्सेल कम्प्यूटर इंस्टिट्यूट, टैली अकादमी, जन शिक्षण संस्थान, Suryas नहीं 1 कम्प्यूटर संस्थान, राष्ट्रीय सर्व शिक्षा मिशन, लाइकोस कम्प्यूटर शिक्षा केंद्र, जी.टी. का कंप्यूटर
फतेहपुर में मॉल वी मार्ट, एक भारत पारिवारिक कला
फतेहपुर के अस्पतालों Broadwell ईसाई अस्पताल, मरियम अस्पताल, एस जे अस्पताल, प्रज्ञान अस्पताल, कल्याणी अस्पताल, शिव अस्पताल, राज अस्पताल, आस्था अस्पताल, डॉ Shusheel Sharmagarv चरित
फतेहपुर में विवाह हॉल रज्जन विवाह हॉल, Aashiyana विवाह हॉल, रज्जन विवाह हॉल, Sanklap विवाह लॉन, रॉयल इन, सारंग गेस्ट हाउस व विवाह, आशीर्वाद पैलेस, मैं अधिकतम विवाह हॉल, शगुन पैलेस, राम रहीम पैलेस, कमल विवाह होम
नदी (s) गंगा और जमुना
उच्च मार्ग (s) राष्ट्रीय राजमार्ग (राष्ट्रीय राजमार्ग 2)
ऊंचाई 110 मीटर (360 फीट)।
घनत्व 640 / km2 (1,700 / वर्ग मील)
आधिकारिक वेबसाइट http://fatehpur.nic.in/
साक्षरता दर 44.60%
बैंकों भारत, पंजाब नेशनल बैंक, इलाहाबाद बैंक, केनरा बैंक, इंडियन Oversease बैंक, एक्सिस बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी बैंक, यूनियन बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा परित्यक्त बालक बैंक, Shakari बैंक, देना बैंक, शहरी तुलनात्मक बैंक, सेंट्रल स्टेट बैंक बैंक
प्रसिद्ध नेता (s) गौरी शंकर कक्कड़
politcal पार्टियों भाजपा, सपा, बसपा, कांग्रेस
आरटीओ संहिता यूपी-71
aadar कार्ड केंद्र 28
मेजर निर्यात मद NA
स्थानीय परिवहन गाड़ियों, बस, कार
मीडिया समाचार पत्र, ग्रामीण / शहरी रेडियो, ट्रांजिस्टर, मीडिया, टीवी के बाद
विकास 14.05%
यात्रा स्थलों श्री Tambeshwar बाबा मंदिर, Shkti पीठ Kalikaan मंदिर, श्री साई मंदिर, श्री Moteshwar महादेव मंदिर, श्री शक्ति पीठ दुर्गा मंदिर, श्री पंच मुखी हनुमान मंदिर, श्री Shive मंदिर, श्री जय गुरुदेव साईं मंदिर, Eidgaah, मस्जिद ई Natiyal, मस्जिद-ए -Ayesha, मस्जिद-ए-नूरी, Peeli मस्जिद, भारत के Evanglical चर्च, भारतीय प्रेस्बिटेरियन चर्च आदि
आयुक्त श्री डी.सी राय
सामाजिक कार्यकर्ता NA

 

फतेहपुर का नक्शा मानचित्र मैप

गूगल मैप द्वारा निर्मित फतेहपुर का मानचित्र, इस नक़्शे में फतेहपुर के महत्वपूर्ण स्थानों को दिखाया गया है

फतेहपुर जिले में कितने गांव है

फतेहपुर जिले में १४८१ गांव है जो की ३ तहसीलें में वितरित है है जिन की संख्या इस प्रकार से है 1. बिंदकी में ४१६ गांव है 2. फतेहपुर में ५१४ गांव है और 3. खागा ५५१ गांव है

फतेहपुर जिले में कितनी तहसील है

फतेहपुर जिले में ३ तहसीलें है जिनके नाम 1. बिंदकी 2. फतेहपुर 3. खागा है, इसमें खागा तहसील सबसे बड़ी और बिंदकी तहसील सबसे छोटी तहसील है

फतेहपुर का इतिहास

फतेहपुर जिला उत्तर प्रदेश राज्य का एक जिला है जो कि पवित्र गंगा एवं यमुना नदी के बीच बसा हुआ है। फतेहपुर जिले में स्थित कई स्थानों का उल्लेख पुराणों मे भी मिलता है जिनमें भिटौरा और असनि के घाट प्रमुख हैं। भिटौरा, भृगु ऋषि की तपोस्थली के रूप में मानी जाती है। फतेहपुर जिला इलाहाबाद मंडल का एक हिस्सा है और इसका मुख्यालय फतेहपुर शहर है।

भिटौरा

पवित्र गंगा नदी के किनारे पर स्थित है। लोगो का कहना है- कि यहाँ सुप्रसिद्ध संत महर्षि भृगु लंबे समय तक पूजा का स्थान रहा है। यहा पर गंगा नदी प्रवाह उत्तर दिशा की ओर है। शहर मुख्यालय से उत्तर दिशा में बारह किलोमीटर दूर उत्तरवाहिनी भागीरथी के भिटौरा तट पर महर्षि भृगु मुनि ने तपस्या की थी। पौराणिक ग्रंथों के अनुसार भृगु मुनि की तपोस्थली में देवता भी परिक्रमा करने आए थे। पवित्र धाम गंगा महर्षि भृगु क्रोध में एक बार भगवान विष्णु की छाती पर लात भी मारी थी। यहाँ पर अन्य आधा दर्जन मन्दिर बने हुए हैं। स्वामी विज्ञानानंद जी ने महर्षि भृगु की तपोस्थली में भगवान शंकर की विशाल मूर्ति स्थापित की  है और नया पक्का घाट भी तैयार कराया है। भगवान शंकर की मूर्ति पर ॐ नमः शिवाय का बारह वर्षों से अनवरत पाठ चल रहा है। उत्तर वाहिनी गंगा पूरे भारत में मात्र तीन जगह है जिसमे हरिद्वार, काशी व भृगु धाम भिटौरा है।

हथगाम

यह महान स्वतंत्रता सेनानी गणेश शंकर विद्यार्थी ऐवम उर्दू के शायर इकबाल वर्मा का जन्म स्थान है। इस् स्थान पर राजा जयचंद की हथशाला थी। इसे सिखों के पाँचवे गुरु अर्जुन देव जी की तपोस्थली होने का गौरव प्राप्त है।

रेन्ह

यह महाभारत कालीन गाँव है और यमुना नदि के किनारे पर बसा हुआ है। दो दशकों पहले एक बहुत पुरानी भगवान विष्णु की कीमती मिश्र धातु की मूर्ति को इस इस गांव में पाया गया था। अब ये मूर्ति कीर्तिखेडा गांव में एक मंदिर मे स्थित है और ये गांव बिन्दकी-ललौली सड़क पर है। लोगो का कहना है कि यहां पर कृष्ण के बडे भाई बलराम की ससुराल है।

शिवराजपुर

यह गांव बिन्दकी के निकट गंगा नदी के किनारे पर स्थित है। इस गांव में भगवान कृष्ण का एक बहुत पुराना मंदिर है। जो मीरा बाई का मंदिर के रूप में जाना जाता है। लोगो का कहना है कि ये भगवान कृष्ण की मूर्ति को मीरा बाई, जो की भगवान कृष्ण की एक प्रख्यात भक्त और मेवाड़ के शाही परिवार के एक सदस्य थीं, के द्वारा स्थापित किया गया था।

तेन्दुली

यह गांव चौड्गरा-बिन्दकी सडक पर है। लोगो का कहना है कि यहाँ सांप के शिकार/कुत्ता काटे बीमरो का ईलाज बाबा झामदास के मन्दिर मे होता है।

हजारी लाल का फाटक

1857 से शुरू हुई आजादी की जंग के अंतिम मुकाम 1942 में अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन का केन्द्र बिन्दु शहर के चौक स्थित हजारी लाल का फाटक था। बलिया के कर्नल भगवान सिंह ने जिले के आठ सौ से अधिक देशभक्तों की फौज की कमान संभाली थी। झंडा गीत के रचयिता श्याम लाल गुप्त पार्षद ने आजादी की इस चिंगारी को तेज करने का प्रयास किया। शिवराजपुर का जंगल क्रांतिकारियों की शरण स्थली था। बताते हैं कि यहीं पर गुप्त रणनीति तय होती थी और फिर अंग्रेजों के छक्के छुड़ाने के लिये क्रांतिकारियों के दल निकल पड़ते थे।

9 अगस्त 1942 को भारत छोड़ो आंदोलन की शुरुआत हुई थी। प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में जिले की महती भूमिका होने पर 1942 की लड़ाई में पूर्वाचल के जनपदों सहित बांदा व हमीरपुर के क्रांतिकारियों ने जिले को ही रणभूमि के रूप में स्वीकारा तभी तो बलिया के कर्नल भगवान सिंह, चीतू पांडेय जैसे क्रांतिकारी यहां के देशभक्तों का साथ देकर अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई को तेज किया। जिले के क्रांतिकारी गुरुप्रसाद पांडेय, बंशगोपाल, शिवदयाल उपाध्याय, दादा दीप नारायण, शिवराज बली, देवीदयाल, रघुनंदन पांडेय, यदुनंदन प्रसाद, वासुदेव दीक्षित भारत छोड़ो आंदोलन का नेतृत्व कर जिले में एक माहौल पैदा कर दिया तभी तो एक-एक करके लगभग आठ सौ से अधिक की फौज क्रांतिकारियों के साथ अंग्रेजों की सत्ता को हिला दिया। चौक स्थित हजारीलाल का फाटक क्रांतिकारियों के लिये गुप्तगू का मुख्य केन्द्र था। लोगो का कहना है कि यहीं पर कानपुर व पूर्वाचल के क्रांतिकारी नेता आकर अंग्रेजों को देश से भगाने के लिये क्या करना है इसकी रणनीति बताते थे।
जहानाबाद की ताज़ा खबरेकटिहार न्यूज़


Comments

फतेहपुर उत्तर प्रदेश — 1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *