चंडीगढ़

चंडीगढ़ भारत के राज्यों में एक केंद्र शासित प्रदेश होने के साथ साथ हरियाणा एवं पंजाब राज्य की राजधानी भी है, चंडीगढ़ का शाब्दिक अर्थ है “चंडी का दुर्ग” और यह नाम यहाँ पर स्थित चंडी माता के मंदिर के कारण पड़ गया है।
चंडीगढ़ के मुख्य वास्तुकार एक फ्रांसीसी थे जिनका नाम ली कार्बूजियर हैं, इनके अलाबा शहर में पियरे जिएन्नरेट, मैथ्यु नोविकी एवं अल्बर्ट मेयर के भी बहुत से अन्य अद्भुत वास्तु नमूने देखे जा सकते हैं। १५ जुलाई २००७ को चंडीगढ़ प्रथम भारतीय गैर-धूम्रपान क्षेत्र घोषित हुआ

चंडीगढ़ के जिलों में कोरोना के मामले

चंडीगढ़ में कोरोना के 74 मामले आये थे जिनमे से 18 ठीक हो गया, और वर्तमान में 56 मामले है।

Facts about Chandigarh

अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर शहरी योजनाबद्धता और वास्तु-स्थापत्य के लिए यह शहर प्रसिद्ध है और आधुनिक भारत का प्रथम योजनाबद्ध शहर है, चंडीगढ़ क्षेत्र के अंतर्गत मोहाली, पंचकुला और ज़ीरकपुर आते हैं, जिनकी २००१ की जनगणना के अनुसार कुल जनसंख्या ११६५१११ (१ करोड़ १६ लाख) है इसे सिटी ऑफ़ ब्यूटीफुल भी कहा जाता है।

Name Chandigarh (UT)
State Automomus, Punjab and Haryana
Area 114 km2 (44 sq mi)
Population of Chandigarh 1,055,450 (2011)
Latitude and Longitude 30°45′N 76°47′E
STD code of Chandigarh 172
Pin Code of Chandigarh 160017
Population Density 9,262/km2 (23,988/sq mi)
Literacy 86.05%
Administrator V.P. Singh Badnore
Member of parliament Kirron Kher
Number of Subdivisions 1
Number of Tehsils 12
Number of Villages 24
Railway Station Chandigarh railway station
Bus Station Chandigarh Bus Terminus
Air Port in Chandigarh Chandigarh International Airport
Number of Hotels in Chandigarh 320
Number of degree Colleges 1
Number of Inter Colleges 95
Number of Medical Colleges 25
Number of Engineering Colleges 69
Malls in Chandigarh 9
Hospitals in Chandigarh 125
Marriage Halls in Chandigarh 110
River(s) Ghaggar-Hakra River
High Way(s) National Highway 5, 7 and 152
Elevation 350 m (1,150 ft)
Offical Website http:// Chandigarh.nic.in/
Politcal Parties BJP, INC, AAP, BSP
RTO Code CH-01 to CH-04
Local Transport Car, Train, Bus & Taxi.
Growth 17.10%

History of Chandigarh in Hindi

चंडीगढ़ के इतिहास लगभग ८००० साल पुराना है, १९४७ में जब देश का विभाजन हुआ तो पंजाब प्रान्त दो भागो में बंट गया, पूर्वी पंजाब और पश्चिमी पाकिस्तान के रूप में सिख बाहुल्य क्षेत्र भारत में आ गया जबकि मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र पाकिस्तान में चला गया, ऐसे में पंजाब की मौजूद राजधानी लाहौर पाकिस्तान में चली गयी, और भारत में स्थित पंजाब के लिए एक नयी राजधानी की जरूरत हुयी, ऐसे में अमेरिकन प्लानर अल्बर्ट मायेर ने इस शहर का नक्शा बनाया और इसका नाम वहां के विशाल मंदिर के नाम पर चंडीगढ़ रखा गया, जब तक चंडीगढ़ का निर्माण नहीं हो पाया तब तक यानि की १९५० तक शिमला पूर्वी पंजाब की राजधानी रहा।

चंडीगढ़ १ नवम्बर १९६६ को बने नए राज्य हरियाणा की भी राजधानी बना और उसके बाद ही चंडीगढ़ को केंद्र शासित शहर घोसित कर दिया गया, २०१६ में भी बहुत से गांव को चंडीगढ़ शहर में जोड़ा गया और उनको सेक्टर और ब्लॉक में बनता गया।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *