बुलंदशहर जिला उत्तर प्रदेश

बुलंदशहर जिला उत्तर प्रदेश के ७५ जिलो में से एक है, इस जिले का मुख्यालय भी बुलंदशहर ही है, अभी हाल ही में बुलंदशहर को राष्ट्रिय राजधानी क्षेत्र में शामिल किया गया है।
बुलंदशहर का क्षेत्रफल ४४४१ वर्ग किलोमीटर है, जनसँख्या २०११ की जनगणना के अनुसार २२२८२६ है, जनसँख्या घनत्व ७८८ व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, साक्षरता ८१.०७%, और बुलंदशहर में गांव की संख्या १२७० है।

Facts about Bulandshahr Uttar Pradesh

Name Bulandshahr
State Uttar Pradesh
Area 4,441 km2 (1,715 sq mi)
Population of Bulandshahr 222,826
Latitude and Longitude 77.0 0 and 78.0 0
STD code of Bulandshahr 91 (5732)
Pin Code of Bulandshahr 203001
District Magistrate (DM. Collector) B. Chandrakala ( I.A.S.)
Superintendent of Police (SP/SSP) Sh Subesh Kumar
Chief development Officer Km. Nidhi Kesarwani
Chief Medical Officer Dr. Sanjay Kumar,
Member of parliament NA
MLA Haji Aleem
Number of Subdivisions Na
Number of Tehsils Anupshahr, Bulandshahr, Debai, Khurja, Shikarpur, Siana,
Number of Villages 1175
Railway Station yes
Bus Station yes
River(s) Ganges and Yamuna
High Way(s) national highways (NH)
Elevation number of, Bulandshahr, 2, 72; Meerut, 287 ; Muzaffarnagar, 586. Excise revenue, Bulandshahr, 79 …
Density 788/km2 (2,040/sq mi)
Offical Website http://bulandshahar.nic.in/
Literacy rate 76.23%.
Famous Leader(s) Gajendra Pal Singh Raghava
Politcal Parties National Students Union Of India ,BJP Central Office
RTO Code UP-13
aadar card center 16
Major Exportable Item ceramics items and steel pipes.
Local Transport Trains, Bus, Car
Growth 18.0 (%)
Travel Destinations Karnavas, Belon, Ahar, Chola, Kala Aam …
Commissioner Sh. Vishal
Social activist Sharafat Hussain Khan was a social activist

बुलंदशहर का इतिहास

बुलंदशहर का इतिहास महाभारत काल और पांडवों से जुड़ा हुआ है, यह क्षेत्र हस्तिनापुर और इंद्रप्रस्थ दोनों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण था, महाभारत काल के बाद यह क्षेत्र कई राजाओ के हाथो में आया और गया।

यहाँ पर राजा परम ने एक किला बनवाया, और इसके बाद ये तोमर राजवंशो के अधीन आ गया, उन्होंने इस क्षेत्र का नाम अहिबरन रखा, ये शहर उस समय काफी ऊंचाई पर था इसलिए कालांतर में इसका नाम बुलन्द शहर पड़ गया, इसका ये नाम पर्शियन भाषा से बना हुआ है।

कई ऐतिहासिक श्रोतो के आधार से पता चला है की अहिवरण या अहिबरन एक सूर्यवंशी क्षत्रिय थे और वे अयोध्या के राजा महाराजा मान्धाता के २४वी पीढ़ी के थे

बुलंदशहर का नक्शा मानचित्र मैप

गूगल मैप द्वारा निर्मित बुलंदशहर का मानचित्र, इस नक़्शे में बुलंदशहर के महत्वपूर्ण स्थानों को दिखाया गया है


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *