Budget 2021 Hindi

इस साल यानि २०२१ से संसद के बजट सत्र की शुरुआत शुक्रवार यानी 29 जनवरी, 2021 को शुरू हो गयी है । बजट सत्र के पहले दिन राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित किया। और अब भारत सरकार की वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण एक फरवरी, 2021 को केंद्रीय बजट पेश करेंगी। सीतारमण वित्त मंत्री के रूप में इसबार अपना तीसरा बजट पेश करेंगी। हर साल एक फरवरी को पेश किए जाने वाले बजट पर देशभर की निगाहें लगी होती हैं क्युकी इसबार बजट पेपर लेस होगा। इससे देश की इकोनॉमी की सूरत और आने वाले समय में सरकार की संभावित कार्ययोजना की सम्पूर्ण जानकारी मिलती है। ऐसे में बड़ी संख्या में देशवासिओ की नजर केंद्रीय बजट पर होती है।

Budget 2021 Highlights

1. राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2021 के अन्तर्गत 15,000 सरकारी विद्यालय जो गुणवत्ता में मिशनरी स्कूलों के विकल्प से भी बेहतर होंगे।
2. 100 सैनिक स्कूल….सेनाओं में राष्ट्रभक्तों को भेजने के लिये।
3. 750अति आधुनिक छात्रावास सहित ‘एकलव्य विद्यालय ‘ आदिवासियों में धर्मान्तरण रोकने के लिये और उन्हें मुख्यधारा में लाने के लिये और नकस्लवाद के अन्त के लिये।
5. राष्ट्रीय उच्च शिक्षा आयोग का गठन
6. अनुसूचित जाति के लिये अगले 6 वर्षों में 3,536 करोड़ की पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्तियां हिन्दू दलितों को भीम मीम के चंगुल से निकालने के लिये।
7. लेह में केन्द्रीय विश्वविद्यालय की स्थापना, काश्मीर समस्या के ताबूत में आखिरी कील ठोकने के लिये।
8. केन्द्रीय विश्वविद्यालयों की संख्या बढा कर वामियों के वर्चस्व की समाप्ति।

Budget 2021 in Hindi Important Points

आयकर की सीमा २.५ लाख संभावना
१० लाख आय पर १० प्रतिशत का टेक्स
२० लाख तक आय पर २०% टेक्स
३० लाख तक की आय पर ३० प्रतिशत का टेक्स
80C में निवेश की सीमा १. ५ लाख से २ लाख की जाने की संभावना
कोरोना काल के के कारण 80डी के तहत बढ़ सकती है राहत
एनपीएस में 80CCD(1B) के तहत बढ़ सकती है छूट
वर्क फ्रॉम होम को लेकर डिडक्शन
इस बार के बजट में लग सकता है कोविड सेस

Budget 2021 Expectations in Hindi

इस वित्त वर्ष के दौरान आम लोगों और सरकार को जिन परिस्थितियों से गुजरना पड़ा, वैसी स्थिति पहले भी कभी आई हो, ऐसा उल्लेख नहीं मिलता है। जाहिर है कि ऐसी परिस्थिति में देश के वित्त मंत्री के समक्ष भी चुनौतियां बढ़ गई हैं। अब, जबकि केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वर्ष 2021 के बजट को बनाना शुरू कर दिया है, तो सबके मन में एक सवाल जरूर उठ रहा होगा कि बज़ 2021 में उनके लिए क्या होगा। वैसे भी, निर्मला सीतारण ने वादा किया है कि इस बार वह ऐतिहासिक बजट बनाने जा रही हैं।
हम भी उम्मीद कर रहे हैं कि इस बार वित्त मंत्री की झोली में चुनिंदा लोगों के लिए ही नहीं, बल्कि समाज के हर वर्ग के लिए कुछ न कुछ सौगात जरूर होगी। वैसे भी कोरोना ने मध्यम वर्ग एवं निम्न मध्यम वर्ग को कुछ ज्यादा ही परेशान किया है। इसलिए वही, इस बजट से सबसे ज्यादा अपेक्षा रख रहे हैं। आम आदमी चाहते हैं बेहतर अस्पताल, बेहतर स्वास्थ्य सुविधा तो भविष्य पर नजरें टिकाए लोग सोचते हैं बेहतर शिक्षा व्यवस्था। वेतनभोगियों की निगाह जहां इनकम टैक्स के स्लैब पर अटकी है।
वह इनकम टैक्स एक्ट की विभिन्न धाराओं के अंतर्गत आयकर में अधिक से अधिक छूट की बाट जोह रहे हैं। अर्थव्यवस्था को एक बार फिर से पटरी पर लौटा रहा उद्योग जगत कुछ इसी तरह के बजट की आशा कर रहा है। ऐसा बजट, जिससे उनका कारोबार चलाना सुगम हो और वह समाज के लिए अधिक से अधिक रोजगार के अवसर सृजित कर सके। तो, अब इंतजार है अगले एक फरवरी का, जिस दिन वित्त मंत्री संसद में वर्ष 2021-22 के लिए बजट पेश करेंगी।

Comments are closed.