वायनाड जिला केरल

वायनाड जो की केरल के जिलों में एक जिला है, इसका मुख्यालय कलपेट्टा है, जिले में 1 प्रभाग है 3 मंडल या तहसील है, और 3 विधान सभा क्षेत्र है, और 1 लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आता है।

वायनाड जिला

वायनाड जिले का क्षेत्रफल 2,131 किमी 2 (823 वर्ग मील) है और २०११ की जनगणना के अनुसार वायनाड की जनसँख्या लगभग 816,558 है और जनसँख्या घनत्व लगभग 383 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, वायनाड की साक्षरता 89.32% है, महिला पुरुष अनुपात यहाँ पर 1035 है, जिले की जनसँख्या विकासदर २००१ से २०११ के बीच 4.60% रही है।

वायनाड जिला भारत में कहाँ पर है

वायनाड भारत के राज्यो में दक्षिण पश्चिम से दक्षिण में स्थित केरल राज्य में है, वायनाड केरल के उत्तर पूर्वी भाग में स्थित है इसीकारण इसकी पश्चिमी सीमाएं कर्नाटक के जिलों और तमिलनाडु के जिलों को स्पर्श करती है, वायनाड की समुद्रतल से ऊंचाई 780 मीटर है और इसके अक्षांश और देशांतर 11.60° N, 76.08° E, और वायनाड केरल की राजधानी थिरुवनंथपुरम जिले से लगभग 462 किलोमीटर उत्तर पूर्व की तरफ राजमार्ग 66 पर है, और भारत की राजधानी दिल्ली से 2450 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम की तरफ श्रीनगर कन्याकुमारी मार्ग पर है।

वायनाड जिले के पडोसी जिले

वायनाड जिले के उत्तर और पूर्व में कर्णाटक के मैसूर जिला और चामराजनगर जिला है, दक्षिण पूर्व में तमिलनाडु का नीलगिरि जिला है, दक्षिण में मलाप्पुरम जिला है, दक्षिण पश्चिम से पश्चिम कोझिकोड जिला इसके बाद फिर उत्तर पश्चिम में कन्नूर जिला है।

Information about Wayanad in Hindi

नाम वायनाड
मुख्यालय कलपेट्टा
राज्य केरल
क्षेत्रफल 2,131 किमी 2 (823 वर्ग मील)
जनसंख्या (2011) 816,558
पुरुष महिला अनुपात 1035
विकास 4.60%
साक्षरता दर 89.32%
जनसंख्या घनत्व 383 / किमी 2 (990 / वर्ग मील)
ऊंचाई 780 मी (2,560 फीट)
अक्षांश और देशांतर 11.60° N, 76.08° E
एसटीडी कोड +91 (0) 04936
पिन कोड 673121 (काल्पेट हेड पीओ), 673122 (कलपेता नॉर्थ)
प्रभाग 1
तालुका 3
लोकसभा क्षेत्र 1
विधानसभा क्षेत्र 3
रेलवे स्टेशन कोझीकोड रेलवे स्टेशन
एयर पोर्ट कोझीकोड हवाई अड्डा
नदी (ओं) कबीनी नदी, पनामारम नदी, मन्थतवादी नदी और थिरुनेली नदी।
उच्च मार्ग एनएच 66
दिल्ली से दूरी 2450 km
चेन्नई से दूरी 462 km
आधिकारिक वेबसाइट http://www.wayanad.nic.in
आरटीओ कोड KL-12, KL-72, KL-73

वायनाड जिले का नक्शा मानचित्र मैप

वायनाड जिले में कितनी तहसील ब्लॉक और उपमंडल है

वायनाड जिले में वायनाड जिले में 1 उपमंडल या प्रभाग इनके नाम वायनाड है और 3 तालुका है जिनको प्रभाग या तहसील भी कह सकते है, इन प्रभागों के नाम कालपेट्टा, सुल्तान बथेरी, मानंतवाद्य है ।

वायनाड जिले में विधान सभा और लोकसभा की सीटें

वायनाड जिले में 3 विधानसभा क्षेत्र है जहा पर विधायक या विधान सभा के सदस्य होते है, इन विधान सभा क्षेत्रो के नाम कालपेट्टा, सुल्तान बथेरी, मानंतवाद्य है और 1 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र है जिसमे संसद सदस्य होते है और इसका नाम वायनाड है।

वायनाड जिले का इतिहास

वायनाड जिले का इतिहास बहुत ही रोचक और प्राचीन है, अगर भारत के पुरातत्व विभाग की माने तो उनके अनुसार यहाँ के जंगल ३००० वर्ष पुराने है और यहाँ पर मानव निवास के अवशेष ईसा से १००० वर्ष पूर्व से विद्धमान है, यहाँ पर नव पाषाण काल के भी बहुत से अवशेष मिले है, यहाँ पर कई राजाओ और राजवंशो ने राज्य किआ है जिसकी जानकारी हमे यहाँ की गुफाओ में बने चित्रों से पता चलती है, सबसे पहले जिसके प्रमाण मिलते है वो है कुटुम्बियास वंश जो की मैसूर का था इनका समय 500 ईस्वी के आसपास था, फिर ११वी शताब्दी में कदम्ब वंश आया और अंत में अंग्रेजो का अधिपत्य हुआ।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *