श्रीनगर जिला जम्मू और कश्मीर

श्रीनगर जम्मू और कश्मीर के जिलों में एक जिला है, इसका मुख्यालय श्रीनगर है, जिले में 2 उपमंडल है 7 तहसील है, और 6 विकास खंड या ब्लॉक या मौजा है और 8 विधान सभा क्षेत्र है और श्रीनगर जिला भी श्रीनगर लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आता है।

श्रीनगर जिला

श्रीनगर जिले का क्षेत्रफल 1,992 किमी 2 (764 वर्ग मील) है और २०११ की जनगणना के अनुसार श्रीनगर की जनसँख्या लगभग 1,269,751 है और जनसँख्या घनत्व 703 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, श्रीनगर की साक्षरता 71.21% है, महिला पुरुष अनुपात यहाँ पर 879 है, जिले की जनसँख्या विकासदर २००१ से २०११ के बीच 23.56% रही है।

श्रीनगर जिला भारत में कहाँ पर है

श्रीनगर भारत के राज्यो में उत्तर पूर्व में स्थित श्रीनगर और कश्मीर राज्य में है, जम्मू जम्मू और कश्मीर के उत्तरी भाग में अंदर की तरफ स्थित है और श्रीनगर 34°05′ उत्तर 74°50′ पूर्व के बीच स्थित है, श्रीनगर की समुद्रतल से ऊंचाई 1585 मीटर है, श्रीनगर, जम्मू और कश्मीर की ग्रीष्म कालीन राजधानी श्री नगर जिले से 0 किलोमीटर है, राज्य की शीत कालीन राजधानी जम्मू से 260 किलोमीटर उत्तर पूर्व की तरफ राष्ट्रिय राजमार्ग 144A और ४४ पर है और भारत की राजधानी दिल्ली से 806 किलोमीटर उत्तर पश्चिम की तरफ राष्ट्रिय राजमार्ग 44 पर है।

जम्मू जिले के पडोसी जिले

जम्मू जिले के उत्तर में गांदेरबल जिला है, उत्तर पूर्व में अनंतनाग जिला है, दक्षिण में पुलवामा जिला है, दक्षिण पश्चिम में बड़गाम जिला है और पश्चिम में बारामुला जिला है ।

Information about Srinagar in Hindi

नाम श्रीनगर
मुख्यालय श्रीनगर
राज्य जम्मू एण्ड कश्मीर
क्षेत्रफल 1,992 किमी 2 (764 वर्ग मील)
जनसंख्या (2011) 1,269,751
पुरुष महिला अनुपात 879
विकास 23.56%
साक्षरता दर 71.21%
जनसंख्या घनत्व 703 व्यक्ति / 1820 वर्ग किलोमीटर
ऊंचाई 1585 मीटर (5200 फीट)
अक्षांश और देशांतर 34°05′ उत्तर 74°50′ पूर्व
एसटीडी कोड (+91)-194
पिन कोड 190 001
उपमंडल 2
तहसील 7
खंड 6
लोकसभा क्षेत्र 1
विधानसभा क्षेत्र 8
रेलवे स्टेशन श्रीनगर रेलवे स्टेशन
एयर पोर्ट श्रीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा
नदी (ओं) झेलम नदी
उच्च मार्ग एनएच 44 , एनएच 144A
आधिकारिक वेबसाइट http://srinagar.nic.in/
आरटीओ कोड JK-01

जम्मू जिले का नक्शा मानचित्र मैप

श्रीनगर जिले में कितनी तहसील ब्लॉक और उपमंडल है

श्रीनगर जिले में 2 उपमंडल है जिनके नाम श्रीनगर पूर्व, श्रीनगर पश्चिम है, 7 तहसीलें है जो की श्रीनगर उत्तर, श्रीनगर दक्षिण, खन्यार, तहसील सेंट्रल, चनापोर / नातिपोर, ईदगाह और पंचा चौक नाम से जाने जाती है, और 6 विकास खंड है, जिनके नाम श्रीनगर, श्रीनगर सेंट्रल (हजरतबल), श्रीनगर नॉर्थ (ईदगाह), हरवन, श्रीनगर साउथ (कमवारिवरी), खोनमोह (पंथचौक में मुख्यालय) है

श्रीनगर जिले में विधान सभा और लोकसभा की सीटें

श्रीनगर जिले में 8 विधानसभा क्षेत्र है जिनके नाम 18-हज़रतबल, 1 9-जदीबल, 20-ईदगाह, 21-खन्यार, 22-हब्बाकादल, 23-अमीरकादल, 24-सोनावर, 25-बाटमाल है और ये जिला स्वयं श्रीनगर, बडगाम, गंदरबल लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत आता है

श्रीनगर जिले का इतिहास

श्रीनगर का इतिहास बहुत पुराना है, उस समय यहाँ पर बौद्ध धर्म भी अपने पैर फैला रहा था, राजतरंगिणी के अनुसार प्रवरसेन द्वितीय ये अपने राज्य के एक नई राजधानी बनायीं जिसे प्रवरपुर कहा जाता था, १४वी शताब्दी में यह भूभाग मुख्यतया हिन्दू और बौद्ध राजाओ के अधिकार में था, उनके बाद मुगलो ने हथिया लिया, और जब औरंगजेब मर गया तब जाकर कही श्रीनगर मुगलो की पहुंच से दूर हुआ, लेकिन यह खुसी ज्यादा दिन नहीं टिकी और कुछ समय बाद अफगानी और दुर्रानी लोग आ गए, जब १९वी शताब्दी में पंजाब के महाराजा रणजीत सिंह शक्तिशाली हुए तो उन्होंने श्रीनगर को अपने राज्य में मिला लिया, उसके बाद हिन्दू डोगरा राजा गुलाब सिंह ने जम्मु कश्मीर नाम की एक स्वतंत्र राज्य की स्थापना की जो की 1947 तक रही उसके बाद श्रीनगर जम्मू कश्मीर राज्य का ही अंग बना रहा।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *