नागपट्टनम जिला तमिलनाडु

नागपट्टनम जो की तमिलनाडु के जिलों में एक जिला है, इसका मुख्यालय नागपट्टनम है, जिले में 2 प्रभाग है ८ मंडल है, और ६ विधान सभा क्षेत्र है, और २ लोकसभा क्षेत्र है।

नागपट्टनम जिला

नागपट्टनम जिले का क्षेत्रफल 2,715.83 किमी 2 (1,048.59 वर्ग मील) है और २०११ की जनगणना के अनुसार नागपट्टनम की जनसँख्या लगभग 1,616,450 है और जनसँख्या घनत्व 548 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, नागपट्टनम की साक्षरता 75.04% है, महिला पुरुष अनुपात यहाँ पर 1025 है, जिले की जनसँख्या विकासदर २००१ से २०११ के बीच 17.95% रही है।

नागपट्टनम जिला भारत में कहाँ पर है

नागपट्टनम भारत के राज्यो में दक्षिण पूर्व से दक्षिण में स्थित तमिलनाडु राज्य में है, नागपट्टनम तमिलनाडु के पूर्वी भाग की तरफ स्थित है इसलिए इसकी पूर्वी सीमाएं समुद्र को स्पर्श करती है, नागपट्टनम की समुद्रतल से ऊंचाई ९ मीटर है और इसके अक्षांश और देशांतर 10.46° N, 79.49° E, और नागपट्टनम तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई जिले से लगभग 318 किलोमीटर दक्षिण की तरफ राजमार्ग 32 पर है, और भारत की राजधानी दिल्ली से 2507 किलोमीटर दक्षिण पूर्व की तरफ राजमार्ग ४४ पर है।

नागपट्टनम जिले के पडोसी जिले

नागपट्टनम जिले के उत्तर में कुड्डालोर जिला है, उत्तर पूर्व दक्षिण तक समुद्र है, दक्षिण पश्चिम में तिरुवरुर जिला है, पश्चिम में थंजावुर जिला है, उत्तर पश्चिम में अरियालुर जिला है ।

Information about Nagapattinam in Hindi

नाम नागपट्टनम 
मुख्यालय नागपट्टनम 
राज्य तमिलनाडु
क्षेत्रफल 2,715.83 किमी 2 (1,048.59 वर्ग मील)
जनसंख्या (2011) 1,616,450
पुरुष महिला अनुपात 1025
विकास 17.95%
साक्षरता दर 75.04%
जनसंख्या घनत्व 548 / किमी 2 (1,420 / वर्ग मील)
ऊंचाई 9 मीटर (30 फीट)
अक्षांश और देशांतर 10.46° N, 79.49° E
एसटीडी कोड +91 (0) 043645,04364
पिन कोड 611xxx
प्रभाग 2
तालुका 8
लोकसभा क्षेत्र 2
विधानसभा क्षेत्र 6
रेलवे स्टेशन नागापट्टिनम रेलवे स्टेशन
एयर पोर्ट तिरुचिरापल्ली हवाईअड्डा
नदी (ओं) कोलिडाम, वेरा च्छहान, नाटर, वेटर, आसापार, थिरुमलैरजन और अरासलार नदियां
उच्च मार्ग एनएच 48, एनएच 44, एनएच 32
आधिकारिक वेबसाइट http://nagapattinam.nic.in
आरटीओ कोड TN 51-TN 82

नागपट्टनम जिले का नक्शा मानचित्र मैप

नागपट्टनम जिले में कितनी तहसील ब्लॉक और उपमंडल है

नागपट्टनम जिले में नागपट्टनम जिले में 2 उपमंडल या प्रभाग है और 8 तालुका है, जिनके नाम इस प्रकार से है, प्रभागों के नाम नागपट्टिनम, मयिलाडुथुरई है और तालुको के नाम नागापट्टिनम, किवेलवूर, थिरुक्कुवालाई, वेदाराण्यम, मइलादुथुराई, थारंगाबाड़ी, कुटलालम, सिरकाज़ी है।

नागपट्टनम जिले में विधान सभा और लोकसभा की सीटें

नागपट्टनम जिले में छह विधानसभा क्षेत्र है जिनके नाम नागापट्टिनम, वेदाराण्यम, मइलादुथुराई, पोमपूहार, सिरकाजी, किवेलवुर है और दो लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र है जो की मइलादुथुरै, नागापट्टिनम ही है।

नागपट्टनम जिले का इतिहास

नागपट्टनम जिले का इतिहास बहुत ही भव्य रहा है, यह नगर सबसे पहले तब प्रकाश में आया जब यहाँ पर चोलो के साम्राज्य का लगभग मध्य काल चल रहा था यानि की नौवीं से बारहवीं शताब्दी के बीच, यह नगर वयवसायिक दृष्टिकोण से बहुत महत्वपूर्ण रहा था, यहाँ पर सबसे पहले पुर्तग़ालिओ ने अपनी वस्तिया बनायीं थी उसके बाद डचो ने आधिपत्य किया और १६६० से १७८१ तक उनका कार्यकाल रहा, १७८१ में ये अंग्रेजो के अधीन आ गया और १७९९ से १८४५ तक ये मद्रास प्रेसीडेंसी के अंतर्गत तंजोर की राजधानी रहा और ये भारत के स्वतंत्र होने के बाद तंजोर के अंतर्गत ही रहा और १९९१ इसे एक स्वतंत्र जिला बनाया गया था।

Comments are closed.