डांग जिला गुजरात

डांग जिला गुजरात के जिलों में एक जिला है, डांग जिला, यह गुजरात के दक्षिण पूर्वी क्षेत्र के अंतर्गत आता है, इसका मुख्यालय अहवा है, जिले में कुछ वित्त विभाग है 3 तालुका है, नगरपालिकाएं कितनी है ये जानकारी नहीं है और 1 विधान सभा क्षेत्र जो की शायद किसी संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आती है, 311 ग्राम है और 70 ग्राम पंचायते भी है ।

डांग जिला

डांग जिले का क्षेत्रफल 1764 वर्ग किलोमीटर है, और २०११ की जनगणना के अनुसार डांग की जनसँख्या 2,२६,769 और जनसँख्या घनत्व 129/km2 व्यक्ति [प्रति वर्ग किलोमीटर] है, डांग की साक्षरता 76.80% है, महिला पुरुष अनुपात यहाँ पर 1007 महिलाये प्रति १००० पुरुषो पर है, जिले की जनसँख्या विकासदर २००१ से २०११ के बीच 21.44% रहा है।

डांग जिला भारत में कहाँ पर है

डांग जिला भारत के राज्यो में एकदम पश्चिम में स्थित गुजरात राज्य में है, डांग जिला गुजरात के दक्षिणी पूर्वी भाग में है, डांग के उत्तर पूर्व से दक्षिण तक महाराष्ट्र राज्य है, डांग 20°७५′ उत्तर 73°68′ पूर्व के बीच स्थित है, डांग की समुद्रतल से ऊंचाई 675 से 1,290 मीटर ke बीच है, डांग गांधीनगर से 400 किलोमीटर दक्षिण पूर्व की तरफ राष्ट्रिय राजमार्ग 48 पर है और भारत की राजधानी दिल्ली से 1271 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम की तरफ राष्ट्रिय राजमार्ग 48 पर है।

डांग जिले के पडोसी जिले

डांग के उत्तर पूर्व से दक्षिण तक महाराष्ट्र के जिले है जो की नंदुरबार जिला है, धुले जिला है, और नाशिक जिला है, पश्चिम में नवसारी जिला है और उत्तर पश्चिम में तापी जिला है ।

Information about Dang in Hindi

नाम डांग
मुख्यालय अहवा
प्रशासनिक प्रभाग दक्षिण पूर्व
राज्य गुजरात
क्षेत्रफल 1,764 किमी 2 (678 वर्ग मील)
जनसंख्या (2011) 226,769
पुरुष महिला अनुपात 1007
विकास 21.44%
साक्षरता दर 76.80%
जनसंख्या घनत्व 129 / किमी 2 (330 / वर्ग मील)
ऊंचाई 675 से 1,290 मीटर
अक्षांश और देशांतर 20°75′ उत्तर 73°68′ पूर्व
एसटीडी कोड +91-02631′
पिन कोड 394710
तहसील/मंडल 3
गांवों की संख्या 311
रेलवे स्टेशन बिलिमोरा रेलवे स्टेशन
4 nn हाँ
एयर पोर्ट गांधीनगर हवाई अड्डा (102 KM)
नदी (ओं) NA
उच्च मार्ग एनएच 48
आधिकारिक वेबसाइट https://dangs.gujarat.gov.in/
प्रसिद्ध नेता (ओं) NA
आरटीओ कोड GJ-30
स्थानीय परिवहन बस, टैक्सी आदि

डांग जिले का नक्शा मानचित्र मैप

डांग जिले में कितनी तहसील ब्लॉक और उपमंडल है

डांग जिले में प्रशासनिक विभाजन तालुके जिनको तहसील या उपमंडल कुछ भी कह सकते है, मे किया जाता है जो की जिले में 3 है वाघई, अहवा और सुबीर। जिले में नगरपालिका है भी या नहीं इसकी अभी जानकारी नहीं है, यदि आपके पास हो तो बताये हम अपडेट कर देंगे ।

डांग जिले में विधान सभा और लोकसभा की सीटें

डांग जिले में 1 विधानसभा क्षेत्र है डांग और संसदीय क्षेत्र की कोई जानकारी नहीं है।

डांग जिले में कितने गांव है

डांग जिले में 70 ग्राम पंचायतों के अंदर आने वाले 311 गांव है,

डांग जिले का इतिहास

डांग जिले का इतिहास रामायण काल से महत्वपूर्ण रहा है, जैसा की रामायण महा ग्रन्थ से पता चलता है की भगवान राम ने वनवास की यात्रा में इस क्षेत्र से गुजरे थे, या कोई नया नहीं वल्कि रामायण काल का दंडकारण्य ही है।

डांग का इतिहास भी बहुत ही वीरता पूर्ण रहा है इस सम्पूर्ण भूभाग में ५ कबीले थे और उनके ५ अलग अलग राजा थे, जब अंग्रेजो ने यहाँ पर घुसने की कोशिश की तो पांचो राजाओ ने मिलकर डांग भूभाग की रक्षा के लिए अंग्रेजी हकूमत से लोहा लिया, ये लम्बी लड़ाई लष्करिअ अम्बा क्षेत्र पर हुयी थी।

इसके बाद 1842 में अंग्रेजो और इन पांच राजाओ में एक समझौता हुआ जिसके अनुसार अंग्रेज इन राजाओ को ३००० चांदी के सिक्के इस भूभाग की प्राकृतिक सम्पदा के दोहन के लिए प्रति वर्ष दिया करेंगे. ये परम्परा आज भी चल रही है जो की इन ५ राजाओ के वारिशों का मुख्या आय का श्रोत है।

हालाँकि १९७० के अनुसार सभी राजाओ के प्रिवी पर्श खत्म कर दिए गए है लेकिन फिर भी इन लोगो का चल रहा है, ये पांचो राजाओ के वरिष्ठ अहवा में हर साल एकत्रित होते है गाजे बाजे और बग्घी के साथ और यहाँ इनको ये वार्षिक धन राशि प्रदान कर दी जाती है .

*NIA = No Information Available


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *