बागेश्वर उत्तराखंड

बागेश्वर जिला उत्तराखंड के कुमाऊं मण्डल का एक जिला है, इसका निर्माण १९९७ में हुआ था इसके पहले यह जिला अल्मोड़ा जिला का भाग था बागेश्वर जिले में ३ तहसीलें है और १ विधान सभा सीट, बागेश्वर जिले का मुख्यालय बागेश्वर नगर में ही है।

बागेश्वर जिले का क्षेत्रफल २३०२ वर्ग किलोमीटर है और २०११ की जनगणना के अनुसार बागेश्वर की जनसँख्या २४९४६२ और जनसँख्या घनत्व १०८ व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, बागेश्वर की साक्षरता ८१% है, और यहाँ पर महिला पुरुष अनुपात १०९३ महिलाये प्रति १००० पुरुषो पर है जबकि २००१ से २०११ के बीच जनसख्या विकास दर ५.१४% रही है।

बागेश्वर जिले कहाँ है

बागेश्वर जिला भारत के उत्तराखण्ड राज्य के लगभग मध्य में है, बागेश्वर के अक्षांश और देशांतर क्रमशः २९ डिग्री ८५ मिनट उत्तर से ७९ डिग्री ७७ मिनट पूर्व तक है, बागेश्वर की भूमि तल की ऊंचाई समुद्रतल से १००४ मीटर है, बागेश्वर की उत्तराखण्ड की राजधानी देहरादून से ३२१ किलोमीटर पूर्व में है और देश की राजधानी दिल्ली से ४५० किलोमीटर उत्तर की तरफ है।

बागेश्वर जिले के पडोसी जिले

बागेश्वर जिले के पडोसी जिले कुछ इस प्रकार से है, पूर्व में पिथौरागढ़ जिला है, दक्षिण से पश्चिम तक अल्मोड़ा और पश्चिम से उत्तर तक चमोली जिला है।

Information about Bageshwar in Hindi

नाम बागेश्वर
राज्य उत्तराखंड
क्षेत्र 2,302 किमी²
बागेश्वर की जनसंख्या 7,803
अक्षांश और देशांतर 29.9 9 8 9 डिग्री सेल्सियस, 79.8745 डिग्री ई
एसटीडी कोड बागेश्वर 5963
पिनेश्वर की पिन कोड 263642
जिला मजिस्ट्रेट (डीएम कलेक्टर) श। मंगेश कुमार घिल्डियाल
पुलिस अधीक्षक (एसपी / एसएसपी) श। सुखबीर सिंह
मुख्य विकास अधिकारी श। एस एस पंकति
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ गीता शर्मा
संसद के सदस्य श्री अजय तमटा
विधायक चंदन राम दास
उपखंडों की संख्या  
तहसील की संख्या 4
गांवों की संख्या 948
रेलवे स्टेशन काठगोदाम
बस स्टेशन बागेश्वर बस
बागेश्वर में एयर पोर्ट जॉली ग्रांट हवाई अड्डे
बागेश्वर में होटल की संख्या 35
डिग्री कॉलेजों की संख्या 2
अंतर कॉलेजों की संख्या 2
मेडिकल कॉलेजों की संख्या 25
इंजीनियरिंग कॉलेजों की संख्या 1 1
बागेश्वर में कंप्यूटर केंद्र 2
बागेश्वर में मॉल 13
बागेश्वर में अस्पताल जिला अस्पताल
बागेश्वर में विवाह हॉल 2
नदी (ओं) गोमती और सरयू
उच्च मार्ग राज्य राजमार्ग 37
ऊंचाई 1,004 मीटर (3,294 फीट)
घनत्व 108 / किमी (280 / वर्ग मील)
आधिकारिक वेबसाइट Http://bageshwar.nic.in/
साक्षरता दर 75%,
बैंक बैंक ऑफ बड़ौदा, पंजाब नेशनल बैंक, इंडियन ओवरसीज बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, स्टेट बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, यूको बैंक, उत्तराखंड ग्रामीण बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा
प्रसिद्ध नेता (ओं) मनीष पांडे का
राजनीतिक दलों कांग्रेस, भाजपा, बसपा, राकांपा, सपा
आरटीओ कोड यूके -2
आधार कार्ड केंद्र  
स्थानीय परिवहन गाड़ियों, बस, कार और उड़ान
मीडिया फेसबुक … हिंदुस्तान मीडिया
विकास 5.13%
यात्रा स्थलों बग्नाथ मंदिर, कासाuni टी एस्टेट, सुमितानंदन पंत गैलरी, श्री हरू मंदिर, गौरी उदयार, लक्ष्मी आश्रम, कोट भंवरी मंदिर
आयुक्त श्री डी सेंथिल पंडियन, आईएएस

बागेश्वर का नक्शा मानचित्र मैप

गूगल मैप द्वारा निर्मित बागेश्वर का मानचित्र, इस नक़्शे में बागेश्वर के महत्वपूर्ण स्थानों को दिखाया गया है

बागेश्वर जिले में कितनी तहसील है

बागेश्वर जिले में ३ तहसील है जिनके नाम 1. गरुड़ 2. कांड 3. कपकोट, इन तीनो तहसीलों में गरुण तहसील सबसे बड़ी और कपकोट तहसील सबसे छोटी तहसील है।

बागेश्वर जिले में विधान सभा की सीटें

बागेश्वर जिले में 1 विधानसभा क्षेत्र है, बागेश्वर (एससी) है

बागेश्वर जिले में कितने गांव है

बागेश्वर जिले में ५२१ गांव है जो की ३ तहसीलों में बटे है जिनकी संख्या तहसील के नाम के अनुसार 1. गरुड़ तहसिल में १९२ 2. कांड में १७४ गांव है और 3. कपकोट तहसील में १५५ गांव है

History of Bageshwar in Hindi

बागेश्वर का इतिहास कुमाऊं राज्य से शुरू होता है, या कार्तिकेयपुर के बगल में था जो की ७वी शताब्दी में कत्यूरी राज्य की राजधानी थी, इतिहासकारो की मने तो 1191 में कुछ नेपानी योद्धयों ने बागेश्वर क्षेत्र को कत्यूरी राजाओ से जीत लिया था और बाद के कमजोर कत्यूरी राजाओ का राज्य सिमट गया था, १५५६ में बालो कल्याण चाँद जो की अल्मोड़ा के शासक थे, उन्होंने खास राजाओ से इस क्षेत्र को जीत लिया चाँद साम्राज्य १०वी शताब्दी में सोम चाँद ने स्थापित किया था।

९ छोटे छोटे गांव को मिला कर 1948 में एक बड़ा गांव बनाया और १९५५ में इसे टाउन घोसित किया गया, बागेश्वर को नोतिफ़िएड कमेटी एरिया का दर्ज १९६२ में मिला, म्युनसिपल कौंसिल १९६८, azadi के ठीक बाद बागेश्वर अल्मोड़ा जिला का एक हिस्सा था, परंतु जब उत्तरांचल का गठन ९ नवम्बर २००० को हुआ तब इस क्षेत्र को पूर्ण जिले का सम्मान प्रदान किया गया।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *