कोलार जिला कर्नाटक

कोलार जो की कर्नाटक के जिलों में एक जिला है, इसका मुख्यालय कोलार है, जिले में 1 उपमंडल है 5 तहसील है, और कुछ विधान सभा क्षेत्र है और 1 लोकसभा क्षेत्र है।

कोलार जिला

कोलार जिले का क्षेत्रफल 4,012 किमी 2 (1,549 वर्ग मील) है और २०११ की जनगणना के अनुसार कोलार की जनसँख्या लगभग 1,540,231 है और जनसँख्या घनत्व 384 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, कोलार की साक्षरता 74.33% है, महिला पुरुष अनुपात यहाँ पर 976 है, जिले की जनसँख्या विकासदर २००१ से २०११ के बीच 11.04% रही है।

कोलार जिला भारत में कहाँ पर है

कोलार भारत के राज्यो में दक्षिण पश्चिम में स्थित कर्नाटक राज्य में है, कोलार कर्नाटक के दक्षिण पूर्वी भाग में स्थित है और इसकी उत्तर से दक्षिण पूर्व की सीमाएं आंध्र प्रदेश के जिलों से मिलती है और दक्षिण में तमिलनाडु के जिले है, और कोलार 13°13′ उत्तर 78°13′ पूर्व के बीच स्थित है, कोलार की समुद्रतल से ऊंचाई 821 मीटर है, कोलार कर्नाटक की राजधानी बैंगलोर जिले से 69 किलोमीटर उत्तर पूर्व की तरफ राष्ट्रिय राजमार्ग ७५ और २७५ पर है, और भारत की राजधानी दिल्ली से 2177 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम की तरफ राजमार्ग 44 पर है।

कोलार जिले के पडोसी जिले

कोलार जिले के उत्तर में चिकबल्लापुर जिला है, उत्तर से दक्षिण पूर्व में आंध्र प्रदेश का अनंतपुर जिला और चित्तूर जिला है, दक्षिण में तमिलनाडु का कृष्णागिरी जिला है, दक्षिण पश्चिम में बंगलौर शहर जिला है और पश्चिम में बंगलौर ग्रामीण जिला है ।

Information about Kolar in Hindi

नाम कोलार
मुख्यालय कोलार
राज्य कर्नाटक
क्षेत्रफल 4,012 किमी 2 (1,549 वर्ग मील)
जनसंख्या (2011) 1,540,231
पुरुष महिला अनुपात 976
विकास 11.04%
साक्षरता दर 74.33%
जनसंख्या घनत्व 384 / किमी 2 (990 / वर्ग मील)
ऊंचाई 821 मीटर (2,694 फीट)
अक्षांश और देशांतर 13.13°N 78.13°E
एसटीडी कोड (+91)-8152
पिन कोड 563101, 563102, 563103
उपमंडल 1
तहसील 5
खंड NA
लोकसभा क्षेत्र 1
विधानसभा क्षेत्र NA
रेलवे स्टेशन कोलार रेलवे स्टेशन
एयर पोर्ट बैंगलोर हवाई अड्डा
नदी (ओं) कावेरी और कन्निका नदियां
उच्च मार्ग एन एच 44, एन एच 75
आधिकारिक वेबसाइट http://kolar.nic.in/en/index.html
आरटीओ कोड KA-07

कोलार जिले का नक्शा मानचित्र मैप

कोलार जिले में कितनी तहसील ब्लॉक और उपमंडल है

कोलार जिले में 1 उपमंडल है कोलार और 5 तहसीलें या तालुका है, जिनके नाम कोलार, बंगारपेट, मलूर, श्रीनिवासपुरा और मुलबागल है।

कोलार जिले में विधान सभा और लोकसभा की सीटें

कोलार जिले में कुछ विधानसभा क्षेत्र है, और 1 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र है जो की कोलार संसदीय निर्वाचन क्षेत्र लोक सभा क्षेत्र है ।

कोलार जिले का इतिहास

कोलार का इतिहास, कोलार सोने की खान के लिए विश्व प्रसिद्द है १० सितंबर २००७ को कॉलर को चिकबल्लापुर जिले से निकला कर आया है, इस जिला स्वर्ण भूमि के नाम भी प्रसिद्द है, इस जिले को कोलाहाला, कुवलला और कोलाला को मध्य युग के दौरान कोलाहलपुरा कहा जाता था, कन्नड़ भाषा में, कोलाहापुरा का अर्थ है “हिंसक शहर”.

Comments are closed.