गोलपाड़ा जिला असम

गोलपाड़ा जिला असम के जिलों में एक जिला है, इसका मुख्यालय गोलपाड़ा है, जिले में 1 उपमंडल 5 तहसील है, 8 खंड या ब्लॉक या मौजा है और 4 विधान सभा क्षेत्र है और 1 लोकसभा है।

गोलपाड़ा जिला

गोलपाड़ा जिले का क्षेत्रफल 1,824 किमी 2 (704 वर्ग मील) है और २०११ की जनगणना के अनुसार गोलपाड़ा की जनसँख्या लगभग 1,008,959 है और जनसँख्या घनत्व 550 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, गोलपाड़ा की साक्षरता 68.67 % है, महिला पुरुष अनुपात यहाँ पर 962 है, जिले की जनसँख्या विकासदर २००१ से २०११ के बीच 22.74% रही है।

गोलपाड़ा जिला भारत में कहाँ पर है

गोलपाड़ा जिला भारत के राज्यो में उत्तर पूर्व में स्थित असम राज्य में है, गोलपाड़ा जिला असम के दक्षिण पश्चिमी भाग में है, इसकी दक्षिणी सीमाएं मेघालय के जिलों से स्पर्श करती और गोलपाड़ा 26°26′ उत्तर 90°22′ पूर्व के बीच स्थित है, गोलपाड़ा की समुद्रतल से ऊंचाई 35 मीटर है, गोलपाड़ा असम की राजधानी दिसपुर जो की कामरूप जिले में है से 157 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम और फिर उत्तर की तरफ गोलपारा – गुवाहाटी मार्ग पर है और भारत की राजधानी दिल्ली से 1876 किलोमीटर दक्षिण पूर्व की तरफ राष्ट्रिय राजमार्ग 27 पर है।

गोलपाड़ा जिले के पडोसी जिले

गोलपाड़ा जिले के दक्षिण में मेघालय के जिले है जो की उत्तर गारो हिल्स जिला और पूर्वी गारो हिल्स जिला है, उत्तर में बोंगईगांव जिला है, उत्तर पूर्व में बारपेटा जिला है, पूर्व में कामरूप जिला और दक्षिण पश्चिम में दक्षिण सलमारा मनकाघर जिला है और पश्चिम में धुबरी जिला है ।

Information about Goalpara in Hindi

नाम गोलपाड़ा
मुख्यालय गोलपाड़ा
राज्य असम
क्षेत्रफल 1,824 किमी 2 (704 वर्ग मील)
जनसंख्या (2011) 1,008,959
पुरुष महिला अनुपात 963
विकास 22.74%
साक्षरता दर 68.67%
जनसंख्या घनत्व 550 / किमी 2 (1,400 / वर्ग मील)
ऊंचाई 35 मीटर (115 फीट)
अक्षांश और देशांतर 26°26′ उत्तर 90°22′ पूर्व
एसटीडी कोड 91-03663
पिन कोड 783123, 783101
उपमंडल 1
तहसील 5
खंड 8
लोकसभा क्षेत्र 1
विधानसभा क्षेत्र 4
रेलवे स्टेशन गोलपाड़ा टाउन रेलवे स्टेशन
एयर पोर्ट बोरझार हवाई अड्डा
नदी (ओं) ब्रह्मपुत्र नदी
उच्च मार्ग एनएच 27
आधिकारिक वेबसाइट http://goalpara.gov.in
आरटीओ कोड AS-18

गोलपाड़ा जिले का नक्शा मानचित्र मैप

गोलपाड़ा जिले में कितनी तहसील ब्लॉक और उपमंडल है

गोलपाड़ा जिले में प्रशासनिक विभाजन, उप मंडल 1 है जिसका नाम गोलपाड़ा है, 5 तालुके है जिनको तहसील कहते है जिनका नाम लखीपुर, बलियाना, मतिया, दुधनोई और रंगजुली और जिले में 8 खंड है जिनको अंग्रेजी में ब्लॉक भी कहते है इनके नाम रंगजुली, कुसड़ोआ, मटिआ, कृष्णाई, बालीजन, खरमुजा, लखीपुर और जलेस्वर ।

गोलपाड़ा जिले में विधान सभा और लोकसभा की सीटें

गोलपाड़ा जिले में 4 विधानसभा क्षेत्र है जिनके नाम जलेश्वर, गोलपाड़ा पश्चिम, गोलपारा पूर्व और दुधनोई और जिले में 1 भी संसदीय क्षेत्र नहीं है जिला स्वयं धुबरी संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आता है।

गोलपाड़ा जिले का इतिहास

गोलपाड़ा का इतिहास भारत के इतिहास में बहुत समृद्ध है, ये बहुत समय तक रियासत रही और पहले यहाँ पर राजबोंग्सी राजाओ ने राज किया उस समय का गोआलपाड़ा या गोल पाड़ा वर्तमान में चार जिले में बदल गया है, जिनके नाम कोकराझार जिला, बोंगईगांव, धुबरी जिला और गोलपारा जिला है।

गोलपारा जिला के नाम के पीछे का इतिहास भी बहुत रोचक है, मूलतः ये ग्वालटिप्पीका से निकला है, जिसका मतलब होता था गवली गाओं, मतलब दूध बेचने बालो का का गाओं।

इस भूभाग का वर्णन हुएनसांग जो की चीनी यात्री ने किया उसके बाद एडवर्ड गाइट ने किया, उनके अनुसार यहाँ पर कुमार भासकर बर्मन राज किया लेकिन वे पुरे आस्वस्त नहीं है की वो भूभाग गोलपारा जिला था या कूच बिहार।

१७६५ में यह भूभाग अंग्रेजो के अधीन आ गया था जो की पहले कोच राजवंशो के अधीन था, १८२६ में यह ब्रिटश बंगाल के अंतर्गत आ गया, स्वतंत्रता के बाद १ जुलाई १९८३ में इस जिले से दो और जिले बनाये गए जो की कोकराझार जिला और धुबरी जिला बना दिए गए इसके बाद २९ सितंबर १९८९ को बोंगईगांव जिला कोकराझार और गोलपारा जिला के अन्य कुछ भाग को लेकर बनाया गया।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *