Bharat ka Naksha

भारत का पहला मानचित्र यानी कि नक्शा किसने बनाया इसके बारे में बहुत भ्र्म है, कुछ विद्वानों का विचार है की सर्वप्रथम मौर्यकाल में आर्यव्रत का मानचित्र चाणक्य की देख रेख में बनवाया गया था तत्कालीन चित्रकार की सहयता से, लेकिन ये बात प्रामाणिक होते हुए भी अपना ऐतिहासिक महत्व नहीं रखती है क्युकी इसका वर्णन किसी भी इतहास की पुस्तक में नहीं है और चाणक्य ने भी नहीं किया है।
अगर आधुनिक समय की बात करे तो १७८३ में जेम्स रेनेल ने भारत का नक्शा बनाया था जो की तत्कालीन भारत का था, इसके बाद रेडक्लिफ की देखरेख में बना और अब सर्वे ऑफ़ इंडिया की देखरेख में या दिशा निर्देशन में बन रहा है।

Bharat ka Map


Google made live Map of Bharat approved by Government of India

भारत का मानचित्र

भारत का वर्तमान मानचित्र १९४७ में पाकिस्तान के अलग होने और उसके बाद बंगलादेश के अलग होने के बाद अस्तित्व में आया है, हम ये भी कह सकते है की भारत का मानचित्र जो आज है पहले वैसा नहीं था शायद १९४७ से पहले।

भारत की नदियों का नक्शा

भारत की नदियों का मानचित्रभारत एक कृषि प्रधान देश है, और कृषि के लिए सबसे जरुरी होता है जल, और जल के दो श्रोत है, नदियां और भूमिगत जल, प्रस्तुत मानचित्र में भारत की सभी बड़ी नदिओं की वस्तुस्थित समझायी गयी है। Source- wikipedia

भारत का नक्शा और पड़ोसी देश

भारत का नक्शा आप जब भी देखेंगे तो अपायेगे की इसके उत्तर में, पूर्व में पश्चिम में और दक्षिण में अन्य देश है, ये कौन से देश है इनका भी जान लेना जरुरी है उत्तर के कुछ भाग में पाकिस्तान है और कुछ ज्यादा भाग में चीन है, उत्तर पूर्व में नेपाल और भूटान है, पूर्व में बंगला देश और म्यांमार है जिसका पहले नाम वर्मा था, दक्षिण में भुसीमा को स्पर्श करता हुआ कोई देश नहीं है फिर भी हमे श्री लंका को मान लेना चाहिए, पश्चिम में गुजरता की जल और थल सीमा को स्पर्श करता हुआ, राजस्थान की थल सीमा को स्पर्श करता हुआ और महाराष्ट्र की समुद्री सीमा को स्पर्श करता पाकिस्तान देश है।

Bharat ka Naksha – 600BC

Bharat ka Naksha - 600BC६०० ईसा पूर्व भारत का नक्शा हमे मिला है, जो की तत्कालीन परिस्थिओं के कारन १६ विशाल महा जनपदों में विभक्त था, निचे दिए गए नक़्शे में तत्कालीन महा जनपदों के नाम भी दिए गए है। Source- wikipedia

ब्रिटिश कालीन भारत का नक्शा १९०९

भारत का नक्शा जिसमे कपड़ा और कढ़ाई का उद्योग क्षेत्र दिखाया गया है

Fabric and embroidery map of India.भारत के वस्त्र उद्योग का नक्शा, इसमें भारत के किस राज्य में किस प्रकार के वस्त्र, सदियों एवं अन्य परिधानों का निर्माण होता था दर्शाया गया है

मौर्य कालीन भारत का मानचित्र

मौर्य वंश की स्थापना चन्द्रगुप्त मौर्या ने आचार्य चाणक्य की सहायता से की थी, और इनका शाशन काल ३२२ ईसा पूर्व से १८० ईसा पूर्व तक रहा था, इनका राज्य तत्कालीन भारत का सबसे समृद और विस्तृत राज्य था, उस समय भारत वर्तमान के वलूचिस्तान तक था। नीच के मानचित्र में देखिएगा। maurya kalin bharat ka manchitra

भारत का नक्शा राज्य सहित

वर्तमान समय में भारत में २९ राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेश है, नीच भारत का नक्शा राज्य सहित दिया गया है, जिसमे सभी राज्यों एवं केंद्र शाषित प्रदेशो को दिखाया गया है।
Bharat Ka naksha Rajya sahit
व्यक्तिगर आभार विकिपीडिया का *

Comments are closed.