वेल्लोर जिला तमिलनाडु

वेल्लोर जो की तमिलनाडु के जिलों में एक जिला है, इसका मुख्यालय वेल्लोर है, जिले में कुछ प्रभाग है 11 मंडल या तहसील है, और १२ विधान सभा क्षेत्र है, और 3 लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आता है।

वेल्लोर जिला

वेल्लोर जिले का क्षेत्रफल 6,077 किमी 2 (2,346 वर्ग मील) है और २०११ की जनगणना के अनुसार वेल्लोर की जनसँख्या लगभग 3,936,331 है और जनसँख्या घनत्व लगभग 654 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, वेल्लोर की साक्षरता 79.65% है, महिला पुरुष अनुपात यहाँ पर 1007 है, जिले की जनसँख्या विकासदर २००१ से २०११ के बीच 13.20% रही है।

वेल्लोर जिला भारत में कहाँ पर है

वेल्लोर भारत के राज्यो में दक्षिण पूर्व से दक्षिण में स्थित तमिलनाडु राज्य में है, वेल्लोर तमिलनाडु के उत्तरी भाग में स्थित है इसीकारण इसकी उत्तरी सीमाएं आंध्र प्रदेश के जिलों को स्पर्श करती है, वेल्लोर की समुद्रतल से ऊंचाई 215 मीटर है और इसके अक्षांश और देशांतर 12.54° N, 79.8° E, और वेल्लोर तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई जिले से लगभग 137 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम की तरफ राजमार्ग ३२ और चेन्नई – वेल्लोर मार्ग पर है, और भारत की राजधानी दिल्ली से 2220 किलोमीटर दक्षिण पूर्व की तरफ राजमार्ग ४४ और श्रीनगर कन्याकुमारी मार्ग पर है।

वेल्लोर जिले के पडोसी जिले

वेल्लोर जिले के उत्तर में आंध्र प्रदेश का चित्तूर जिला है उत्तर पूर्व में तिरुवल्लुर जिला है, पूर्व में कांचीपुरम जिला है, दक्षिण पूर्व से दक्षिण में तिरुवन्नामलाई जिला है, इसके बाद फिर दक्षिण पश्चिम में कृष्णागिरी जिला है।

Information about Vellore in Hindi

नाम वेल्लोर
मुख्यालय वेल्लोर
राज्य तमिलनाडु
क्षेत्रफल 6,077 किमी 2 (2,346 वर्ग मील)
जनसंख्या (2011) 3,936,331
पुरुष महिला अनुपात 1007
विकास 13.20%
साक्षरता दर 79.65%
जनसंख्या घनत्व 650 / किमी 2 (1700 / वर्ग मील)
ऊंचाई 216 मी (709 फीट)
अक्षांश और देशांतर 12.54° N, 79.8° E
एसटीडी कोड +91 (0) 0416
पिन कोड 632004
प्रभाग NA
तालुका 11
लोकसभा क्षेत्र 3
विधानसभा क्षेत्र 12
रेलवे स्टेशन वेल्लोर छावनी रेलवे स्टेशन
एयर पोर्ट वेल्लोर हवाई अड्डा
नदी (ओं) पलार, पोन्नाई नदियां
उच्च मार्ग एनएच 32, एनएच 40
दिल्ली से दूरी 2220 km
चेन्नई से दूरी 137 km
आधिकारिक वेबसाइट http://www.vellore.tn.nic.in
आरटीओ कोड TN-23, TN-73, TN-83

वेल्लोर जिले का नक्शा मानचित्र मैप

वेल्लोर जिले में कितनी तहसील ब्लॉक और उपमंडल है

वेल्लोर जिले में वेल्लोर जिले में कुछ उपमंडल या प्रभाग इनके नाम की सही जानकारी नहीं है और 11 तालुका है, प्रभागों के नाम अंबूर, अनाईकत, अरकोनम, अरकोट, गुडीयाथम, कतपडी, नातरमपल्ली, तिरुपट्टूर, वनियमपाडी, वैल्लोर, वालाजा है ।

वेल्लोर जिले में विधान सभा और लोकसभा की सीटें

वेल्लोर जिले में 12 विधानसभा क्षेत्र है जहा पर विधायक या विधान सभा के सदस्य होते है, इन विधान सभा क्षेत्रो के नाम अनाईकत, अरकोनम, अरकोट, गुडीयाथम, कतपडी, नातरमपल्ली, तिरुपट्टूर, वनियमपाडी, वैल्लोर, शिलोंगघुर, रानीपेत, पेरंबूर है और 3 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र है जिसमे संसद सदस्य होते है और इनके नाम वैल्लोर, आराक्कोनम, तिरुपत्तूर है।

वेल्लोर जिले का इतिहास

वेल्लोर जिले का इतिहास या फिर वेल्लोर नगर का इतिहास दोनों ही इतिहास अपने आप में भव्य, विशाल और बहुत प्राचीन है, वेल्लोर सबसे ज्यादा समय तक उरैयूर के चोल राजाओ के अधीन रहा, फिर पल्लव आये, इसके बाद मलखेड के राष्ट्रकूट राजाओ का अधिपत्य हुआ, इसी प्रकार कालांतर में मुघलो, मुस्लिमो, मराठो केको इत्यादि राजाओ का थोड़े थोड़े समय के लिए अधिपत्य बना ही रहा, इस जिले का १८५७ के स्वतंत्रता संग्राम में भी महत्वपूर्ण योगदान था, क्युकी यहाँ के वेल्लोर के किले में भी १८०६ में सिपाही विद्रोह हुआ था जिसकी परिणति १८५७ में दिखी थी, स्वतंत्रता के बाद इस नगर को पहले मद्रास राज्य में शामिल किया गया, फिर नार्थ अर्कोट जिले में और बाद में एक स्वतंत्रत जिला बनाया गया था, यहाँ पर माता लक्ष्मी जी का मंदिर बहुत ही भव्य है, जिसके निर्माण में १५००० किलो स्वर्ण लगा है और इसे श्रद्धालुओं के लिए २००७ में खोला गया था यहाँ पर प्रतिदिन १ लाख से ज्यादा भगत लोग आते है दर्शन के लिए।

Comments are closed.