वड़ोदरा जिला गुजरात

वड़ोदरा जिला गुजरात के जिलों में एक जिला है, वड़ोदरा जिला, यह गुजरात के दक्षिण पूर्वी क्षेत्र के अंतर्गत आता है, इसका मुख्यालय वड़ोदरा है, जिले में कुछ वित्त विभाग है 12 तालुका है, 5 नगरपालिकाएं है और 12 विधान सभा क्षेत्र जो की वड़ोदरा संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आती है, 612 ग्राम है और 540 ग्राम पंचायते भी है ।

वड़ोदरा जिला

वड़ोदरा जिले का क्षेत्रफल 7512 वर्ग किलोमीटर है और २०११ की जनगणना के अनुसार वड़ोदरा की जनसँख्या लगभग 4165626 है और जनसँख्या घनत्व 551 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, वड़ोदरा की साक्षरता 81.21% है, महिला पुरुष अनुपात यहाँ पर 934 है, जिले की जनसँख्या विकासदर २००१ से २०११ के बीच 14.16% रही है।

वड़ोदरा जिला भारत में कहाँ पर है

वड़ोदरा जिला भारत के राज्यो में एकदम पश्चिम में स्थित गुजरात राज्य में है, वड़ोदरा जिला गुजरात के दक्षिण पूर्वी भाग में है, वड़ोदरा 22°18′ उत्तर 73°12′ पूर्व के बीच स्थित है, वड़ोदरा की समुद्रतल से ऊंचाई 129 मीटर है, वड़ोदरा गुजरात की राजधानी गांधीनगर से 132 किलोमीटर उत्तर पूर्व की तरफ राष्ट्रिय राजमार्ग पर है और भारत की राजधानी दिल्ली से 1006 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम की तरफ राष्ट्रिय राजमार्ग 48 पर है।

वड़ोदरा जिले के पडोसी जिले

वड़ोदरा के उत्तर में खेड़ा जिला है, उत्तर पूर्व में पंचमहल जिला है, दक्षिण पूर्व में छोटा उदयपुर जिला है, दक्षिण में नर्मदा जिला है, दक्षिण पश्चिम में भरुच जिला है, पश्चिम में आनंद जिला है।

Information about Vadodara in Hindi

नाम वड़ोदरा
मुख्यालय वड़ोदरा
प्रशासनिक प्रभाग केंद्रीय गुजरात
राज्य गुजरात
क्षेत्रफल 7,512 किमी 2 (2,900 वर्ग मील)
जनसंख्या (2011) 4,165,626
पुरुष महिला अनुपात 934
विकास 14.16%
साक्षरता दर 81.21%
जनसंख्या घनत्व 551 / किमी2 (1430 / वर्ग मील)
ऊंचाई 129 मीटर (423 फीट)
अक्षांश और देशांतर 22°18′ उत्तर 73°12′ पूर्व
एसटीडी कोड 0265′
पिन कोड 390 0XX
तहसील/मंडल 12
लोकसभा क्षेत्र 2
विधानसभा क्षेत्र 12
गांवों की संख्या 612
रेलवे स्टेशन वडोदरा जंक्शन रेलवे स्टेशन
एयर पोर्ट वडोदरा हवाई अड्डा
नदी (ओं) विश्वामित्री नदी
उच्च मार्ग एनएच 48
आधिकारिक वेबसाइट http://vadodara.gujarat.gov.in
प्रसिद्ध नेता (ओं) NIA
आरटीओ कोड जीजे -06 (शहरी) / जीजे -29 (ग्रामीण)

वड़ोदरा जिले का नक्शा मानचित्र मैप

वड़ोदरा जिले में कितनी तहसील ब्लॉक और उपमंडल है

वड़ोदरा जिले में प्रशासनिक विभाजन तालुके जिनको तहसील या उपमंडल भी कहते है, ये जिले में 12 है, सावली, वाघोड़िए, दभोई, वड़ोदरा सिटी, सयाजीगंज, अकोटा, सिनोर, वड़ोदरा रूरल, रायपुरा, मांजलपुर, पड़रा, और कर्जन । जिले में 5 नगरपालिका भी है।

वड़ोदरा जिले में विधान सभा और लोकसभा की सीटें

वड़ोदरा जिले में 12 विधानसभा क्षेत्र है सावली, वाघोड़िए, दभोई, वड़ोदरा सिटी, सयाजीगंज, अकोटा, सिनोर, वड़ोदरा रूरल, रायपुरा, मांजलपुर, पड़रा, और कर्जन और ये सभी वड़ोदरा संसदीय क्षेत्र में आते है।

वड़ोदरा जिले में कितने गांव है

वडोदरा जिले में 612 ग्राम पंचायतों के अंदर आने वाले 540 गांव है।

वड़ोदरा जिले का इतिहास

वड़ोदरा का इतिहास बहुत प्राचीन है, सबसे पहले इसके नाम का इतिहास देखते है, वड़ोदरा के आसपास बहुत से वट वृक्ष है और इसके अंदर से विश्वामित्री नदी प्रवाहित होती है, एक बार यहाँ पर ऋषि तप कर रहे थे तो उन्होंने देखा की बहुत से वट के पत्ते नदी में बहे जा रहे है, देखने पर पता चला की यह भूभाग वट के वृक्षों से परिपूर्ण है, इसलिए उन्होंने वद यानि की वट और डरा मतलब बहुत से वृक्ष, और इस प्रकार से इसका नाम वड़ोदरा पड गया।

यहाँ पर मराठों, मुगलों और अन्य वंश का आधिपत्य रहा है, काफी समय तक इसे बरोदा के नाम से भी जाना जाता रहा था, बरोदा बहुत समय तक वड़ोदरा या बरोदा रियासत की राजधानी रहा है और फिर बॉम्बे प्रेसीडेंसी के अंतर्गत भी एक रियासत रहा है, कुलमिलाकर वड़ोदरा का इतिहास बहुत ही भव्य और शानदार रहा है।
NIA* No information available


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *