कुरुक्षेत्र हरियाणा

कुरुक्षेत्र जिला हरियाणा के 22 जिलों में एक जिला है, कुरुक्षेत्र अम्बाला मण्डल का जिला है और इसका मुख्यालय कुरुक्षेत्र है, जिले में 2 उपमंडल है, 3 तहसीलें और ३ ही उप तहसीलें भी है, 1 लोक सभा क्षेत्र है, 4 विधान सभा क्षेत्र है, 419 ग्राम है और 373 ग्राम पंचायते है।

कुरुक्षेत्र जिले का क्षेत्रफल 1,683 वर्ग किलोमीटर है, और २०११ की जनगणना के अनुसार कुरुक्षेत्र की जनसँख्या 964,231 और जनसँख्या घनत्व 570 /km2 व्यक्ति [प्रति वर्ग किलोमीटर] है, कुरुक्षेत्र की साक्षरता 76.7% है, महिला पुरुष अनुपात यहाँ पर 866 महिलाये प्रति १००० पुरुषो पर है, जिले की जनसँख्या विकासदर २००१ से २०११ के बीच 16.81% रहा है।

कुरुक्षेत्र भारत में कहाँ पर है

कुरुक्षेत्र जिला भारत के राज्यो में उत्तर की तरफ की अंदर की तरफ स्थित हरियाणा राज्य में है, कुरुक्षेत्र जिला हरियाणा के उत्तर पूर्वी भाग का जिला है इसीलिए इसके उत्तर पश्चिम में पंजाब राज्य है और दक्षिण पूर्व में दिल्ली राज्य है और कुरुक्षेत्र 29.965717°N 76.837006°E के बीच स्थित है, कुरुक्षेत्र की समुद्रतल से ऊंचाई 228 मीटर है, कुरुक्षेत्र चंडीगढ़ से 93 किलोमीटर दक्षिण की तरफ है और देश की राजधानी दिल्ली से 155 किलोमीटर उत्तर की तरफ ही है।

कुरुक्षेत्र के पडोसी जिले

कुरुक्षेत्र के उत्तर में अम्बाला जिला है उत्तर पूर्व में चंडीगढ़ जिला है, पूर्व में यमुना नगर जिला है, दक्षिण पूर्व करनाल जिला है, दक्षिण पश्चिम में कैथल जिला है, उत्तर पश्चिम में पंजाब के जिले है ये अमृतसर जिला और पटियाला जिला है।

Information about Kurukshetra in Hindi

नाम कुरुक्षेत्र
राज्य हरयाणा
क्षेत्र 1,683 किमी 2 (650 वर्ग मील)
कुरुक्षेत्र की जनसंख्या 9 64, 655
विकास 16.81%
साक्षरता दर 76.70%
घनत्व 630 / किमी 2 (1600 / वर्ग मील)
ऊंचाई 846 फीट
अक्षांश और देशांतर 29.965717 ° N 76.837006 ° ई
कुरुक्षेत्र का एसटीडी कोड 911744
कुरुक्षेत्र की पिन कोड 136118
संसद के सदस्य नवीन जिंदल
विधायक / सांसद श। जसविंदर सिंह संधू
उपखंडों की संख्या  
तहसीलों की संख्या थानेसर, पेहवा, शाहबाद
गांवों की संख्या 41 9
रेलवे स्टेशन कुरुक्षेत्र जंक्शन रेलवे स्टेशन
बस स्टेशन कुरुक्षेत्र नई बस
कुरुक्षेत्र में एयर पोर्ट चंडीगढ़ (100 किमी) कुरुक्षेत्र के निकटतम हवाई अड्डा हैं।
कुरुक्षेत्र में होटल की संख्या 52
डिग्री कॉलेजों की संख्या 26
अंतर कॉलेजों की संख्या 26
मेडिकल कॉलेजों की संख्या 125
इंजीनियरिंग कॉलेजों की संख्या 23
कुरुक्षेत्र में कंप्यूटर केंद्र 57
कुरुक्षेत्र में मॉल केसल मॉल
कुरुक्षेत्र में अस्पताल 38
कुरुक्षेत्र में विवाह हॉल 12
नदी (ओं) सरस्वती
उच्च मार्ग राष्ट्रीय राजमार्ग -1
आधिकारिक वेबसाइट कुरुक्षेत्र.निक.इन
प्रसिद्ध नेता (ओं) कुलपती के.एम.मोशी की
राजनीतिक दलों भाजपा, बसपा, कांग्रेस, इंड, आप
आरटीओ कोड एचआर 07
स्थानीय परिवहन टेंपो, कार, बस,
मीडिया समाचार पत्र, ग्रामीण / शहरी होने के रेडियो, ट्रांजिस्टर, मीडिया, टेलीविजन
यात्रा स्थलों स्थानेश्वर महादेव, कमल नभी, वाल्मीकि आश्रम, बिड़ला मंदिर, गुरुद्वारा राज घाट पाशाही दासिन, गुरुद्वारा तेसेसरी पाशाशाही, गुरुद्वारा चीवीन पाशाही, गुरुद्वारा सिध्द बाती पाषार्ही पहीली

कुरुक्षेत्र का नक्शा मानचित्र मैप

गूगल मैप द्वारा निर्मित कुरुक्षेत्र का मानचित्र, इस नक़्शे में कुरुक्षेत्र के महत्वपूर्ण स्थानों को दिखाया कुरुक्षेत्र है

कुरुक्षेत्र जिले में कितनी तहसील और गांव है

तेह | उप-तहसील | उप-प्रभाग गांवों की संख्या पटवार सर्किलों कानागो सर्किलों कुल क्षेत्रफल (Hect.)
जिला कुरुक्षेत्र 419 105 9 164335
थानेसर 120 31 3 48495
लाडवा 53 10 1 15114
थानेसर उप-डिवीजन 173 41 4 63609
शाहबाद 90 18 1 28297
बबैन 45 8 1 11960
शाहबाद उप-डिवीजन 135 26 2 40257
पेहोवा 81 29 2 46897
इस्मालाबाद 30 9 1 13572
पेहवा उप-डिवीजन 111 38 3 60469

कुरुक्षेत्र जिले में विधान सभा की सीटें

कुरुक्षेत्र जिले में 3 विधान सभा क्षेत्र है जिनके नाम 1. शाहबाद (एससी) 2. थानेसर 3. पेहवा है

कुरुक्षेत्र का इतिहास

कुरुक्षेत्र का इतिहास महाभारत काल से जुड़ा हुआ है, कुरुक्षेत्र का मतलब ही है कुरु लोगो का क्षेत्र , या पूरा क्षेत्र कुरु राजवंश के अधीन था, जो की महाराज दुस्यंत के वंसज थे, यही पर महाभारत का महान संग्राम हुआ और यही पर भगवान् कृष्ण ने अर्जुन को श्री मद्भगवद गीता का उपदेश दिया था।

इसी कुरुक्षेत्र जिले के अंदर महाराजा हर्ष वर्धन का राज्य था जो की थानेसर के नाम से जाना जाता है, वे एक महान हिन्दू सम्राट थे उनका राज्य उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले तक था।

कुरुक्षेत्र जो की पहले करनाल जिले के अंतर्गत तहसील था, १९७३ में इसे करनाल जिले से अलग किया गया और बाद में इसके कुछ भाग कैथल जिले और यमुना नगर जिले में जोड़े भी गए है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *