हरियाणा

हरियाणा, भारत देश के २९ राज्यो में से एक है, यह देश के उत्तरी भाग में स्थित है, और पहले यह पूर्वी पंजाब का हिस्सा था, १ नवम्बर १९६६ को भाषायी आधार पर इसे पंजाब से निकाल कर एक नए राज्य का गठन किया गया, हरियाणा के उत्तर में पंजाब और हिमाचल प्रदेश, पश्चिम और दक्षिण में राजस्थान है, पूर्वी सीमा पूरी तरह से उत्तर प्रदेश से जुडी है।

हरियाणा और पंजाब की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ है, और हरियाणा का सबसे बड़ा शहर फरीदाबाद है, कुल जिले २२, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर बीजेपी से है और राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी है, यहाँ पर सर्वाधिक बोली जाने बलि भाषाएँ हिदी, हरयानवी, उर्दू, पंजाबी और अंग्रेजी है, गुडगाँव हरियाणा का सबसे विकसित जिला है।

हरियाणा का क्षेत्रफल ४४२१२ है और क्षेत्रफल में इसका देश में २१वा स्थान है, २०११ की जनगणना के अनुसार यहाँ की जनसँख्या २७७६१०६३ है और जनसँख्या घनत्व ५७३ व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, जनसँख्या में हरियाणा का भारत में ११वा स्थान है, हरियाणा की साक्षरता 76.64% है और यहाँ पर ९०३ महिलाये प्रति १००० पुरुषो पर है।

हरियाणा का शाब्दिक अर्थ

‘हरियाणा’ का शब्दार्थ-‘परमेश्वर का निवास’, ‘हरि’ (विष्णु) और ‘अयन’ (घर) से मिलकर हरियाणा शब्द बना है। हरियाणा प्रदेश की राजधानी चंडीगढ़ है, जो केंद्र शासित प्रदेश होने के साथ पंजाब राज्य की भी राजधानी है। यह राज्य सम्पूर्ण भारत के विकास का अग्रदूत माना जाता है। ब्रिटिश शासन में हरियाणा, पंजाब प्रान्त का एक भाग रहा था। इसके इतिहास में पंजाब के इतिहास की महत्त्वपूर्ण भूमिका है।

हरियाणा के महत्वपूर्ण तथ्य

राज्य हरियाणा 
राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी
मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (बीजेपी)
उप मुख्यमंत्री NA
आधिकारिक वेबसाइट http://www.haryana.gov.in/
स्थापना का दिन 1 नवंबर, 1966
क्षेत्रफल 44,212 वर्ग किमी
घनत्व 573 प्रति वर्ग किमी
जनसंख्या (2016) 27,761,063
पुरुषों की जनसंख्या (2011) 14,494,734
महिलाओं की जनसंख्या (2011) 13,266,329
शहरी जनसंख्या % में (2011) NA
जिले 21
राजधानी चंडीगढ़
उच्च न्यायलय पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय
जनसँख्या में स्थान [भारत में ] 18वा
क्षेत्रफल में स्थान [भारत में ] 21वा
धर्म सिख, हिन्दू, मुस्लिम, क्रिश्चियन, बौद्ध, जैन
नदियाँ यमुना, घग्गर
वन एवं राष्ट्रीय उद्यान सुल्तानपुर राष्ट्रीय उद्यान, कालेसर राष्ट्रीय उद्यान, सिम्बलवारा राष्ट्रिय उद्यान
भाषाएँ हिंदी, पंजाबी, उर्दू, हरयाणवी
पड़ोसी राज्य दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश
राजकीय पशु ब्लैक बक
राजकीय पक्षी काला तीतर
राजकीय वृक्ष पवित्र पीपल
राजकीय फूल कमल
राजकीय नृत्य NA
राजकीय खेल NA
नेट राज्य घरेलू उत्पाद (2016) 94680 INR
साक्षरता दर (2011) 83.78%
1000 पुरुषों पर महिलायें 877
सदन व्यवस्था एकसदनीय
विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 90
विधान परिषद् सीटे NA
संसदीय निर्वाचन क्षेत्र 10
राज्य सभा सीटे 5

हरियाणा का नक्शा

गूगल मैप की सहायता से बना हुआ हरियाणा का नक्शा

हरियाणा में कितने मंडल है

हरियाणा राज्य को प्रशासनिक उद्देश्यों के लिए चार प्रभागों मंडलों में बांटा गया है: अंबाला, रोहतक, गुरुग्राम और हिसार इसमें 22 जिले, 62 उप-मंडल, 83 तहसील, 47 उप-तहसील और 126 ब्लॉक हैं। हरियाणा में कुल 154 शहरों और कस्बों के साथ 6,841 गांव हैं।

क्रम संख्या प्रभाग/ मंडल जिले
1 अंबाला डिवीजन अंबाला, कैथल, कुरुक्षेत्र, पंचकुला और यमुना नगर।
2 गुड़गांव डिवीजन फरीदाबाद, गुड़गांव, महेंद्रगढ़, मेवात, पलवल और रेवाड़ी
3 हिसार डिवीजन भिवानी, फतेहाबाद, हिसार, जिंद, सिरसा और चरखी दादरी
4 रोहतक डिविजन झज्जर, करनाल, पानीपत, रोहतक और सोनीपत

हरियाणा का इतिहास

ब्रिटिश शासन में हरियाणा, पंजाब प्रान्त का एक भाग रहा था। इसके इतिहास में पंजाब के इतिहास की महत्त्वपूर्ण भूमिका है। यह राज्य औद्योगिक उत्पादन में देश के अग्रणी राज्यों में से एक है। गुड़गांव शहर सूचना प्रौद्योगिकी और ऑटोमोबाइल उद्योग के एक प्रमुख केंद्र के रूप में तेज़ी से उभरा है। यह निर्माण क्षेत्र का भी प्रमुख केंद्र है।

हरियाणा का प्राचीन इतिहास

हरियाणा का प्राचीन इतिहास बहुत गौरवपूर्ण है। यह वैदिक काल से प्रारंभ होता है। यह राज्य पौराणिक ‘भरत वंश’ की जन्मभूमि माना जाता है, जिसके नाम पर इस देश का नाम ‘भारत’ पड़ा। महाकाव्य महाभारत में हरियाणा का ज़िक्र हुआ है। कौरवों और पांडवों की युद्धभूमि कुरुक्षेत्र हरियाणा में है। मुस्लिमों के आगमन और दिल्ली के भारत की राजधानी बनने से पहले तक भारत के इतिहास में हरियाणा की महत्त्वपूर्ण भूमिका रही है। बाद में हरियाणा दिल्ली का ही एक भाग बन गया और 1857 में प्रथम स्वतंत्रता संग्राम तक यह अधिक महत्त्वपूर्ण नहीं रहा।

हरियाणा दर्शनीय स्थल

हरियाणा दिल्ली से लगा हुआ एक राज्य है, यहाँ पर कई ऐतिहासिक, प्राचीन और नवीन दर्शनीय स्थल और इमारते है, कुछ स्थान ऐसे भी है जहा पर आप १ या २ दिन रुक कर के भारतीय संस्कृति का आनंद भी उठा सकते है।

गुडगाँव दिल्ली के सबसे निकट

गुडगाँव वैसे तो आज इलेक्ट्रॉनिक शहर के नाम से पूरी दुनिया में विख्यात है, पर इसके अलाबा यहाँ पर कई दर्शनीय और पर्यटन स्थल है, यहाँ पर २ ऐसी इमारते या स्थान कहे जो की देखने योग्य है तो वो है किंगडम ऑफ़ ड्रीम और एम्बिएंस माल, किंगडम ऑफ़ ड्रीम में कई ऐतिहासिक और मनोरंजक कार्यक्रम होते रहते है जबकि एम्बिएंस माल में आप दुनिया भर की चीजे एक छत के नीचे खरीद सकते है, बाकि मजा तो आपको वहा जाने पर ही मिलेगा।

सोहना दिल्ली के निकट

सोहन दिल्ली से मात्र ६४ किलोमीटर दूर है, सोहना में सबसे प्रसिद्द है, इस शिव मंदिर के एक कुंड है जिसकी खासियत ये है की इसमें हमेशा गर्म पानी बहता रहता है, और इस गर्म पानी से स्नान करने से समस्त प्रकार के चार्म रोगों से छुटकारा मिल जाता है, सोहना में हर साल जुलाई और अगस्त के बीच में मेला लगता है जिसमे देश दुनिया के लाखो पर्यटक आते है और आनंद की प्राप्ति करते है।

दमदमा झील, एक मस्त सप्ताहांत

अगर आप दिल्ली के निवासी है और आस पास किसी ऐसे स्थान पर जाना चाहते है जो प्राकृतिक रूप से आपको आनंदित कर सके तो आपको दमदमा झील के आस पास बहुत अच्छा लगेगा, यहाँ पर आप वोटिंग कर सकते है, यहाँ पर हरियाणा टूरिज्म डेवलपमेंट की एक केंटीन भी है जहा पर आप मनचाहा व्यंजन प्राप्त कर सकते है और अपने परिवार के साथ एन्जॉय कर सकते है

Comments are closed.