गुरदासपुर जिला पंजाब

गुरदासपुर जिला पंजाब के जिलों में एक जिला है, और इसका मुख्यालय गुरदासपुर है, जिले में 3 तहसीलें है, 11 खंड या ब्लॉक है और 7 विधान सभा क्षेत्र, एक संसदीय क्षेत्र और ११५७ गांव है ।

गुरदासपुर जिला

गुरदासपुर जिले का क्षेत्रफल 2610 वर्ग किलोमीटर है और २०११ की जनगणना के अनुसार गुरदासपुर की जनसँख्या लगभग 2,104,011 है और जनसँख्या घनत्व 650 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, गुरदासपुर की साक्षरता 81.1% है, महिला पुरुष अनुपात यहाँ पर 895 है, जिले की जनसँख्या विकासदर २००१ से २०११ के बीच 9.30% रही है।

गुरदासपुर जिला भारत में कहाँ पर है

गुरदासपुर जिला भारत के राज्यो में पश्चिम में स्थित पंजाब राज्य में है, गुरदासपुर जिला पंजाब के उत्तरी भाग में है और इसकी उत्तरी सीमाएं हिमाचल प्रदेश के जिलों से मिलती है और उत्तर पश्चिम में पाकिस्तान से मिलती है, गुरदासपुर 31°55′ उत्तर 75°15′ पूर्व के बीच स्थित है, गुरदासपुर की समुद्रतल से ऊंचाई 241 मीटर है, गुरदासपुर पंजाब की राजधानी चंडीगढ़ से 219 किलोमीटर उत्तर पश्चिम में है और भारत की राजधानी दिल्ली से 463 किलोमीटर उत्तर पश्चिम की तरफ राष्ट्रिय राजमार्ग 44 पर है।

गुरदासपुर जिले के पडोसी जिले

गुरदासपुर जिले के उत्तर में पठानकोट जिला है, उत्तर पूर्व हिमाचल प्रदेश का कांगड़ा जिला है, पूर्व में होशियारपुर जिला है, दक्षिण पश्चिम में अमृतसर जिला है।

Information about Gurdaspur in Hindi

नाम गुरदासपुर
मुख्यालय गुरदासपुर
राज्य पंजाब
क्षेत्रफल 2,610 किमी 2 (1,010 वर्ग मील)
जनसंख्या (2011) 2,104,011
पुरुष महिला अनुपात 895
विकास 9.30%
साक्षरता दर 81.10%
जनसंख्या घनत्व 650 / किमी 2 (1680 / वर्ग मील)
ऊंचाई 241 मीटर (791 फीट)
अक्षांश और देशांतर 31°55′ उत्तर 75°15′ पूर्व
एसटीडी कोड +91-01874′
पिन कोड 143521
तहसील 3
खंड 11
लोकसभा क्षेत्र 1
विधानसभा क्षेत्र 7
रेलवे स्टेशन गुरदासपुर रेलवे स्टेशन
एयर पोर्ट अमृतसर हवाई अड्डा
नदी (ओं) रावी और व्यास नदी
उच्च मार्ग NH-44
आधिकारिक वेबसाइट http://gurdaspur.nic.in
आरटीओ कोड PB-06

गुरदासपुर जिले का नक्शा मानचित्र मैप

गुरदासपुर जिले में कितनी तहसील ब्लॉक और उपमंडल है

गुरदासपुर जिले में प्रशासनिक विभाजन, उप मंडल तीन है, तालुके जिनको तहसील कहते है, ये जिले में 3 और इनके नाम गुरदासपुर, बटाला, डेरा बाबा नानक है और जिले में 11 खंड है जिनको ब्लॉक भी कहते है जिनके नाम गुरदासपुर, बटाला, डेरा बाबा नानक, कलानौर, धारीवाल, काहनूवान, दीनानगर, फतेहगढ़ चुरियन, श्री हरगोबिंदपुर, क़ादिअण, दोरांगला है।

गुरदासपुर जिले में विधान सभा और लोकसभा की सीटें

गुरदासपुर जिले में 11 विधानसभा क्षेत्र है जिनके नाम कुछ इस प्रकार से है गुरदासपुर, बटाला, डेरा बाबा नानक, दीनानगर, फतेहगढ़ चुरियन, श्री हरगोबिंदपुर, क़ादिअण और जिले में गुरदासपुर ही संसदीय क्षेत्र है ।

गुरदासपुर जिले का इतिहास

गुरदासपुर का इतिहास बहुत प्राचीन है शायद १७वी शताब्दी से है, इसकी स्थापना गुरियाजी महाराज ने की थी, मिसल काल में भी गुरदासपुर कन्हैया मिस्ल और रँघरिआ मिस्ल की गतिविधिओ का प्रमुख केंद्र रहा था, महाराजा रंजीत सिंह ने रँघरिआ मिस्ल को १८०८ में और कन्हैया मिस्ल को १८११ में जीत लिया था।

ईस्ट इंडिया कोम्पनी ने २९ मार्च १८४९ में दूसरे एंग्लो सिख लड़ाई में अधिकृत कर लिया था जो की १८३९ से ४९ तक चली, और प्रशासनिक सुविधा के लिए अंग्रेजो ने ही १ मई १८५२ को गुरदासपुर जिले का निर्माण किया और १८५७ की स्वतंत्रता संग्राम में गुरदासपुर भी क्रांति का केंद्र बना, विभाजन के समय बहुत समय तक गुरदासपुर का भविष्य असमंजस में बना रहा, परन्तु अंत में यह भारत गणराज्य में शामिल हो गया।

Comments are closed.