Facts and history of Coochbehar, West Bengal

Facts about Cooch Behar

Name Cooch Behar
State West Bengal
Area 8.29 km2 (3.20 sq mi)
Population of Coochbehar 106,760
Latitude and Longitude 26.3357° N, 89.4459° E
STD code of Coochbehar 03582
Pin Code of Coochbehar 736 101
District Magistrate (DM. Collector) Sri. P. Ulaganathan, IAS
Superintendent of Police (SP/SSP) Sri Anoop Jaiswal, IPS.
Chief development Officer
Chief Medical Officer
Member of parliament Renuka Sinha
MLA Rabindra Nath Ghosh
Number of Subdivisions 7
Number of Tehsils 11
Number of Villages 116
Railway Station Cooch Behar Junction railway station
Bus Station NBSTC Bus Station
Air Port in Coochbehar Cooch Behar Airport
Number of Hotels in Coochbehar 53
Number of degree Colleges 14
Number of Inter Colleges 14
Number of Medical Colleges 1
Number of Engineering Colleges 11
Computer Centers in Coochbehar 23
Malls in Coochbehar 1
Hospitals in Coochbehar 10
Marriage Halls in Coochbehar 1
River(s) Torsa river
High Way(s) NH 31
Elevation 138 ft / 42 m
Density 13,000/km (33,000/sq mi)
Offical Website http://coochbehar.nic.in/
Literacy rate 91.75%
Banks Allahabad Bank, Yes Bank, Corporation Bank, UCO Bank, United Bank Of India, Federal Bank, Central Bank Of India, Syndicate Bank, South Indian Bank, State Bank of India, Bank Of India, Canara Bank, Indian Overseas Bank, Oriental Bank of Commerce Bank, Axis Bank, United Bank Of India, Punjab National Bank, Dena Bank, ICICI Bank, Allahabad Bank, IndusInd Bank, HDFC Bank, KARUR VYSYA BANK, Andhra Bank, KVB Bank, RBL Bank, Kotak Mahindra Bank, ING Vysya Bank, Central Bank, Bandhan Bank
Famous Leader(s) Biswa Singha
Politcal Parties BSP, AITC, BJP, CPM, IND
RTO Code WB-64/63
Aadar card center 1
Local Transport Trains, Bus, Car and Flight
Media Newspaper, Radio, Telecommunications, Television, Satellite television, Internet, Cinema halls
Growth 7.86%.
Travel Destinations Cooch Behar Raj Bari Palace, Sagar Dighi, Madan Mohan Bari, Siddhanath Shiva Temple, Baneswar Shiva temple
Commissioner J.C.Haughton

History of Coochbehar in Hindi

कूच बिहार पहले कामरूप राज्य का एक भाग था और ये ४ठी से १२वी शताब्दी तक रहा, १२वी सदी के बाद ये कमाता राज्य का हिस्सा बन गया, और सबसे पहले खेण साम्राज्य का हिस्साबन गया, खेण यहाँ के आदिवासी समुदाय के लोग थे, और उन्होंने १४९८ तक यहाँ राज्य किया, इसके बाद वो अलाउद्दीन हुसैन शाह जो की एक स्वतंत्र पठान सुल्तान था गौर साम्राज्य उससे उनकी लड़ाई हुयी और वो हार गए, इसके बाद अलाउद्दीन की लड़ाई वहां के लोकल भुयान और अहोम राजा से युध्द हुआ और सुल्तान हार गया।

इस पुरे उठा पटक के बाद यहाँ पर कोच साम्राज्य का उदय हुआ, इसमें सबसे पहले कोच रहा बिस्व सिंघ थे , जो की १५१० से १५३० तक यहाँ के शासक रहे, और १६६१ में यहाँ के राजा प्राण नारायण ने अपना क्षेत्र विस्तार के बारे में सोचा, पर तभी मुग़ल औरंगजेब ने हमला कर दिया और उसने कूच बिहार का नाम आलमगीरनगर कर दिया, पर पाने क्षेत्र को महाराजा प्राण नारायण ने शीघ्र बापस ले लिए.

१७७२-७३ के आसपास भूटान ने यहाँ पर हमला किया और कूच बिहार को जीत लिया, कूच बिहार से भूटानियो को भागने के लिए यहाँ के राजा ने अंग्रेजो से संधि कर ली, ५ अप्रेल १७७३ में जब यहाँ के राजा ने अंग्रेजो की मदद से सभी भूटानियों को भगा दिया और ये फिर से एक स्वतन्त्र राज्य बन गया, परंतु ये ईस्ट इंडिया कंपनी के संरक्छन में रहा,

यहाँ का विक्टर जुबली महल इंग्लैंड के बकिंघम महल की तर्ज पर १८८७ में बना, उस समय यहाँ के राजा नृपेंद्र नारायण थे, महाराणा नृपेंद्र आधुनिक कुछ बिहार ने निर्माण कर्ता है.

१९४७ में जब देश आज़ाद हुआ तो तत्कालीन महाराज जगददीपेंद्र नारायण ने अपने राज्य को पूरी तरह से भारत में बिली कर लिया जो की १२ सितम्बर १९४९ से लागु है, और १९ जनवरी १९५० को कूच बिहार पश्चिम बंगाल का हिस्सा बन गया जो की आजतक है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *