बदायूं उत्तर प्रदेश

बदायूं जिला उत्तर प्रदेश के बरेली मंडल का एक जिला है, इसका मुख्यालय भी बदायूँ ही है, बदायूं का नाम तत्कालीन अहीर राजकुमार बुध के नाम पर पड़ा, बदायूं में ६ तहसील है और ६ ही विधान सभा की सीट है, बदायूं जिला में कुल 2035 गांव है।

बदायूं जिले का क्षेत्रफल ५१६८ वर्ग किलोमीटर है, २०११ के अनुसार यहाँ की जनसँख्या ३१२९००० है और जनसँख्या घनत्व ७४० व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, यहाँ की साक्षरता ५३% और ८५९ महिलाये प्रति १००० पुरुषो पर है, २००१ से २०११ के बीच जनसख्या विकास दर २१% रही है।

बदायूं भारत में कहाँ पर है

बदायूं भारत के उत्तर प्रदेश राज्य में उत्तरी भाग में स्थित है, ये जिला उत्तर में मोरादाबाद जिला से, दक्षिण में कासगंज जिला से, पूर्व में शाहजहांपुर जिला से और पश्चिम में बुलंदशहर जिला से घिरा हुआ है, बदायूं समुद्रतल से १६४ मीटर की ऊंचाई पर है और इसके अक्षांस और देशांतर २८ डिग्री ५ मिनट उत्तर से ७९ डिग्री १२ मिनट पूर्व तक है।

Information about Badaun in Hindi

नाम बदायूं
राज्य उत्तर प्रदेश
क्षेत्र 84 km2 (32 वर्ग मील)
बदायूं की जनसंख्या ग्रामीण-3037301, शहरी-644595
अक्षांश और देशांतर Na
बदायूं के एसटीडी कोड 583
बदायूं की पिन कोड 243,601
तहसीलों की संख्या शाहजहांपुर, Bisauli, Bilsi, Dataganj और Sahaswan। ।
गांवों की संख्या Bilsi 207, 310 Bisauli, शाहजहांपुर 409, 498 Dataganj, Gunnaur 385, 275 Sahaswan
रेलवे स्टेशन हाँ
बस स्टेशन हाँ
बदायूं में एयर पोर्ट हाँ
बदायूं में होटलों की संख्या कॉकटेल और करी के साथ होटल ला, इंद्र चौक, लाजवाब रेस्तरां के साथ होटल राजमहल, श्याम नगर पश्चिम: होटल रीजेंसी, Labela} अजंता होटल, रोडवेज शाहजहांपुर, आहूजा होटल के पास, गांधी ग्राउंड। साहू धरम शाला, कायस्थ धर्मशाला, आर्य समाज धर्मशाला
डिग्री कॉलेजों की संख्या असीम सिद्दीकी मेमोरियल डिग्री कालेज, राजकीय डिग्री कॉलेज, आवास विकास शाहजहांपुर,
schol की संख्या ब्लूमिन्ग डेल स्कूल, बुडून पब्लिक स्कूल, क्रिस्चियन हायर सेकेंडरी स्कूल, दे पॉल स्कूल, फ्लोरेंस नाइटिंगेल हायर सेकेंडरी स्कूल
इंटर कॉलेजों की संख्या गवर्नमेंट इंटर कॉलेज (जीआईसी), इस्लामिया इंटर कालेज, LCRS Navyuvak इंटर कालेज शाहजहांपुर, कुंवर रुकुम सिंह वैदिक इंटर कालेज, राजाराम महिला इंटर कॉलेज, एस इंटर कॉलेज, एच पी इंटरनेशनल स्कूल, Dataganj रोड, शाहजहांपुर, लड़कियों के लिए केदारनाथ महिला कॉलेज, द्रौपदी देवी Swaraswati विद्या मंदिर इंटर कॉलेज, N.M.S.N.Das P.G.College, Vidhyavati वैदिक कन्या Uchatar माध्यमिक विद्यालय
मेडिकल कॉलेजों की संख्या सरकारी मेडिकल कॉलेज,
इंजीनियरिंग कॉलेजों की संख्या आईटी ग्लोबल इंस्टिट्यूट ऑफ संस्थान। और प्रबंधन, प्रबंधन और प्रौद्योगिकी, शाहजहांपुर के बदायूं संस्थान,
कम्प्यूटर केन्द्रों बदायूं में श्री गुरुकुल कॉलेज, जीबी पंत Digree कॉलेज, Gindo देवी गर्ल्स कॉलेज, राजकीय डिग्री कालेज, नेहरू मेमोरियल शिवनारायण दास कालेज, प्रबंधन और प्रौद्योगिकी, Sigler लड़कियों इंटर कालेज, राजा राम महिला इंटर कॉलेज के बदायूं संस्थान, पार्वती आर्य कन्या इंटर कॉलेज
बदायूं में मॉल आईटीसी Megamart, Easyday, वी-मार्ट, जी मार्ट, Kalputra दुकान, जीडीएस जटिल, Sahulat बाजार
बदायूं में अस्पतालों Ranjna अस्पताल, आधुनिक स्वास्थ्य देखभाल क्लिनिक, झंडा अस्पताल, Ramayani अस्पताल, मिलेनियम अस्पताल, सिटी अस्पताल, राम प्रसाद अस्पताल, हीरा अस्पताल, Naugaria अस्पताल (पी)
बदायूं में विवाह हॉल अंतर्राष्ट्रीय जैन और Vais, Jeevansangini.com, Rishton Ka संसार, पवित्र समुद्री मील, भल्ला विवाह Linkers, Subhlagan मारवाड़ी Matrimoni, Manavshadi.Com, शुभ शादी वैवाहिक और .Namdev विवाह Beuro, शुभ विवाह विवाह प्वाइंट,
नदी (s) गंगा
उच्च मार्ग (s) SH33, SH43, SH51, SH18, एनएच 93
ऊंचाई 164 मीटर (538 फीट)
घनत्व 5489 / km2 (14220 / वर्ग मील)
आधिकारिक वेबसाइट http://www.badaun.nic.in/
साक्षरता दर 73.00%
बैंकों भारत, 6 शाखाओं, बैंक ऑफ बड़ौदा, 5 शाखाओं, पंजाब नैशनल बैंक, 5 शाखाओं, ग्रामीण बैंक, 5 शाखाओं, एक्सिस बैंक, एचडीएफसी बैंक, इंडियन बैंक स्टेट बैंक, विजया बैंक, वाणिज्य Orientel बैंक, शहरी Coperative बैंक, इलाहाबाद बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, सिंडिकेट बैंक, यूको बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, आईडीबीआई बैंक, भारत, पंजाब और सिंध बैंक यूनियन बैंक, केनरा बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया
आरटीओ संहिता 24
aadar कार्ड केंद्र 31
मेजर निर्यात मद रामा श्यामा कागज, Campher और संबद्ध उत्पाद, Keser उद्यम, J.K.Sugar, ओसवाल प्रवासी, भारत पेट्रोलियम और बॉटलिंग संयंत्रों, N.E.Railway कार्यशाला, इफको आंवला, Wimco, किसान सहकारी चीनी मिल्स, यूपी सहकारी Katai, सुपीरियर इंडस्ट्रीज, एसके इंडस्ट्रीज
स्थानीय ट्रांसपोर्ट कंपनी अजंता परिवहन एजेंसी, अखिल भारतीय आयोग एजेंसी, न्यू गुप्ता ट्रांसपोर्ट कंपनी, गुप्ता रोड वाहक, जय राम परिवहन, न्यू जनता ट्रांसपोर्ट कंपनी और कमीशन एजेंट, बदायूं गोल्डन रोड लाइन्स
मीडिया डेली मिरर, सूर्य, आईटीवी
विकास 19.95%
यात्रा स्थलों बरेली 42km (SH33), मुरादाबाद 102km (SH43), फर्रुखाबाद 107km (SH43), मथुरा 165km (SH33), आगरा 175km (SH33A), भरतपुर 195km (SH33) जयपुर 398km (SH33), अजमेर 532km (SH33), नई दिल्ली 220km (SH18 शाहजहांपुर-दिल्ली राजमार्ग), लखनऊ 298km (शाहजहांपुर-शाहजहांपुर रोड), मेरठ 200km (SH18, शाहजहांपुर-मेरठ राजमार्ग)

 

बदायूं का नक्शा मानचित्र मैप

गूगल मैप द्वारा निर्मित बदायूं का मानचित्र, इस नक़्शे में बदायूं के महत्वपूर्ण स्थानों को दिखाया गया है

बदायूं जिले में कितने गांव है

बदायूं जिले में २०३५ गांव है जो की 6 तहसीलों में विभक्त है, जिनके संख्या इस प्रकार से है १. बिल्सी में २०४ गांव है 2. बिसौली में २९९ गांव है, 3. बदायूं में ३९८ गांव है ४. दातागंज में ४८५ गांव है, 5. गुन्नौर में ३७७ गांव है, और 6. सहसवान में २७२ गांव है।

बदायूं जिले में कितनी तहसील है

बदायूं जिले में 6 तहसीलें है, जिनके नाम 1. बिल्सी 2. बिसौली 3. बदायूं 4. दातागंज 5. गुन्नौर 6. सहसवान है, इनमे सबसे बड़ी तहसील दातागंज है और सबसे छोटी तहसील बिल्सी है।

बदायूँ का इतिहास

बदायूँ, उत्तर प्रदेश का एक महत्त्वपूर्ण ज़िला है। यह गंगा की सहायक नदी स्रोत के समीप स्थित है। इस नगर का तत्कालीन नाम वोदामयूता कहा गया है। इस लेख से ज्ञात होता है कि उस समय बदायूँ में पांचाल देश की राजधानी थी।इस नगर को अहीर सरदार राजा बुद्ध ने 10वीं शती में बसाया था। 1838 में यह ज़िला मुख्यालय बना।

गंगा को पृथ्वी पर लाने के लिए राजा भगीरथ ने कहां तपस्या की थी। यहां गंगा के कछला घाट से कुछ ही दूर पर बूढ़ी गंगा के किनारे एक प्राचीन टीले पर अनूठी गुफा है। कपिल मुनि आश्रम के बगल स्थित इस गुफा को भगीरथ गुफा के नाम से जानते हैं। पहले यहां राजा सगर के 60 हजार पुत्रों की भी मूर्तियां थी, जो कुछ साल पहले चोरी चली गईं। करीब ही राजा भगीरथ का एक अति जीर्ण-शीर्ण मंदिर है, जहां अब सिर्फ चरण पादुका बची हैं।

बदायूं के कछला गंगा घाट से करीब पांच कोस की दूरी पर कासगंज की ओर बढ़कर एक बोर्ड दिखाई पड़ता है, भगीरथ गुफा। एक गांव है होडलपुर। थोड़ी दूर जंगल के बीच एक प्राचीन टीला दिखाई पड़ता है। बरगद का विशालकाय वृक्ष और अन्य पेड़ों के झुरमुटों बीच मठिया है। इसी टीले पर स्थित है कपिल मुनि आश्रम और भगीरथ गुफा। लाखोरी ईंटें से बनी एक मठिया के द्वार पर हनुमानजी की विशालकाय मूर्ति लगी है। भीतर प्रवेश करने पर एक मूर्ति और दिखाई पड़ती है, इसे स्थानीय लोग कपिल मुनि की मूर्ति बताते हैं। मूर्ति के बगल से ही सुरंगनुमा रास्ता अंदर को जाता है, जिसमें से एक व्यक्ति ही एक बार में प्रवेश कर सकता है।

पांच मीटर भीतर तक ही सुरंग की दीवारों पर लाखोरी ईटें दिखाई पड़ती हैं। इसके बाद शुरू हो जाती है कच्ची अंधेरी गुफा। सुरंगनुमा रास्ते से भीतर जाने के बाद एक बड़ी कोठरी मिलती है, जहां एक शिवलिंग भी कोने में है। कोठरी के बाद फिर सुरंग और फिर कोठरी। पहले गंगा इसी टीले के बगल से होकर बहती थीं। अभी भी गंगा की एक धारा समीप से होकर बहती है, जिसे बूढ़ी गंगा कहते हैं। टीले के नीचे स्थित मंदिर से दुर्लभ मुखार बिंदु शिवलिंग भी चोरी चला गया था। बाद में पुलिस ने पाली (अलीगढ़) के एक तालाब से शिवलिंग तो बरामद कर लिया, लेकिन सगर पुत्रों की मूर्तियों का अभी भी कोई पता नहीं है। इसी टीले पर तीन समाधि भी हैं, इनमें से एक को गोस्वामी तुलसीदास के गुरु नरहरिदास की समाधि कहते हैं।

नीलकंठ महादेव का प्रसिद्ध मन्दिर, शायद लखनपाल का बनवाया हुआ था। ताजुलमासिर के लेखक ने बदायूँ पर कुतुबुद्दीन ऐबक के आक्रमण का वर्णन करते हुए इस नगर को हिन्द के प्रमुख नगरों में माना है। बदायूँ के स्मारकों में जामा मस्जिद भारत की मध्य युगीन इमारतों में शायद सबसे विशाल है

प्राचीन इमारतों-अलाउद्दीन ने अपने जीवन के अन्तिम वर्ष बदायूँ में ही बिताए थे। अकबर के दरबार का इतिहास लेखक अब्दुलक़ादिर बदायूँनी यहाँ अनेक वर्षों तक रहा था और बदायूँनी ने इसे अपनी आँखों से देखा। बदायूँनी का मक़बरा बदायूँ का प्रसिद्ध स्मारक है।

शिक्षा व जनसंख्या-यहाँ हाफ़िज मुहम्मद सिद्दीकी इंटर कॉलेज है। 2001 की जनगणना के अनुसार नगर की कुल जनसंख्या 1,48,138 है और ज़िले की कुल जनसंख्या 30,69,245है।

भागलपुर की खबरें, बक्सर की खबरें, गया की लेटेस्ट न्यूज़,

 


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *